इलेक्ट्रॉन की खोज किसने की थी। Who Discovered Electron

J.J Thomson ने 1897 में इलेक्ट्रॉन के अस्तित्व को अपने Cathode rays experiments के माध्यम से सिद्ध किया था। J.J Thomson एक ब्रिटिश भौतिक विज्ञानी (Physicist) थे जो Cambridge University, इंग्लैंड में प्रोफेसर थे। कैथोड किरण ट्यूबों (Cathode ray tubes) के उपयोग से उन्होने प्रयोगों के माध्यम से यह पाया कि इलेक्ट्रॉन, तरंगों, परमाणुओं या अणुओं से अलग कण होते हैं। उन्होने यह सिद्ध किया कि इलेक्ट्रॉन Negative charged particles होते हैं जो सभी Atoms के अंदर मौजूद होते हैं। इलेक्ट्रॉन की खोज ने हमारे Atom संबन्धित ज्ञान को कई गुना बढ़ा दिया।

electron ki khoj kisne aur kab ki thi

J.J Thompson को उनकी इस खोज के लिए 1906 का भौतिकी का Nobel Prize दिया गया।

इलेक्ट्रॉन क्या होता है :

इलेक्ट्रॉन(Electron) सबसे महत्वपूर्ण मौलिक कणों (fundamental particles) में से एक होते हैं। इलेक्ट्रॉन शब्द ग्रीक भाषा के “elektron” से बना है जिसका अर्थ amber होता है। इलेक्ट्रॉन को “e” के माध्यम से लिखा जाता है और ये सभी atoms में परमाणु के नकारात्मक चार्ज (Negative Charge) का कारण होता है। हालांकि J.J Thompson स्वतंत्र रूप से इलेक्ट्रॉन के चार्ज और द्रव्यमान के मूल्य की गणना नहीं कर सके। Robert Millikan ने 1909 में इलेक्ट्रॉन के चार्ज और द्रव्यमान के मूल्य की सही गणना की।

इलेक्ट्रॉन का द्रव्यमान और Chargeप्रत्येक इलेक्ट्रॉन का चार्ज (negative) –1.6021765 × 10-19 coulombs होता है। यह इलैक्ट्रिक चार्ज का Basic Unit होता है। तुलनात्मक अध्ययन की सुविधा के लिए -1 के रूप में जाना जाता है। यदि इलेक्ट्रॉन के द्रव्यमान की बात की जाए तो यह 9.10938356 × 10−31 kg होता है जो कि Proton के relative mass का 1/1836 (1/2000) भाग होता है। Proton और Neutron के मुक़ाबले इलेक्ट्रॉन का द्रव्यमान इतना कम है कि इसे नगण्य माना जाता है। इसलिए इसे शून्य “0” के बराबर माना जाता है।  जब हम किसी भी Atom के mass Number की गणना करते हैं तो इलेक्ट्रॉन के द्रव्यमान (mass) की गणना नहीं होती है।

सभी अणुओं (atoms) में इलेक्ट्रॉन Nucleus के चारों तरफ निश्चित Orbits मेंचक्कर लगाते हैं। जबकि proton और neutron, atom के बीच में  Nucleus में इकट्ठे Packed होते हैं। इलेक्ट्रॉन का अपनी Orbit में चक्कर लगाना उसी प्रकार का होता है जैसे कि सूर्य के चारों तरफ गृह चक्कर लगाते हैं। ज्ञात सभी subatomic कणों में इलेक्ट्रॉन Lightest और stable होते हैं।  इलेक्ट्रॉनों की अधिकता या कमी के कारण ही सभी विद्युत संबन्धित घटनाएँ होती हैं। इलेक्ट्रॉनों के गतिमान होने से ही Electricity उत्पन्न होती है।

Read also :-

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.