अमेरिका की मुद्रा क्या है। America Ki Mudra

संयुक्त राष्ट्र अमेरिका वह देश है जिसे हमेशा दुनिया में सबसे अमीर विकसित और स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में देखा गया है। अमेरिका की केंद्र सरकार स्व-शासित राज्यों का सुदृढ़ ढांचा है जो शक्ति और धन से परिपूर्ण है। usa की मुद्रा us dollar है जो की विश्व की सबसे आरक्षित मुद्रा हैं। इसे हरितबैग नाम से भी जाना जाता है, डॉलर एक फीएट पैसा है, जिसका उपयोग सोने और पेट्रोलियम जैसी वस्तुओं के लिए अंतरराष्ट्रीय बाजार में मानक इकाई के रूप में किया जाता है। प्रेट्रोलियम व्यापार मे us dollar को ही प्रेट्रोडाॅलर के रुप में भुगतान हेतु एकमात्र ईकाई मानते हैं। अमेरिकी डॉलर अमेरिका के अलावा अन्य राष्ट्रो की भी अधिकारिक मुद्रा हैं कुछ राष्ट्रो ने अपने स्वतंत्र होने के पश्चात अपनी मुद्रा का निर्माण न करते हुए अमेरिकी डॉलर को स्वतंत्र रूप से अपना लिया है तो कुछ राष्ट्रौ ने डॉलरकरण प्रक्रिया का प्रयोग कर उसे अपनाया है।

america ki mudra kya hai

अमेरिकी वैश्विक भू-राजनीति में भी डाॅलर की अहम भूमिका निश्चित रूप से देखी जा सकती है। इसी तथ्य के बिषय में वासिलि फौस्कास और बुलेंट गोके ने अपनी पुस्तक “द न्यू अमेरिकन इंपीरियलिज्म” में बताया है, कि डॉलर की विरासत हमेशा अमेरिकी वैश्विक प्रभुत्व के भविष्य के लिए सामरिक रही है, कई मामलों में यह अमेरिका की जबरदस्त सैन्य शक्ति से कहीं अधिक महत्वपूर्ण है।इस तरह अमेरिका के अंतरराष्ट्रीय बाजारों में प्रभुत्व बनाए रखने में डाॅलर की अहम भूमिका है हालांकि कुछ दशकों में डाॅलर की value मे गिरावट देखी गई है परन्तु फिर भी वह सर्वश्रेष्ठ अधिकारिक मुद्रा के शीर्ष पर काबिज है अन्य राष्ट्रौ की मुद्रा इसे स्थानांतरित नही कर पाई है।

us dollar का नाम “स्पेनी मिल्ड डॉलर” के नाम पर रखा गया है। दरअसल 18 वी शताब्दी के उपरांत स्पेन के उपनिवेशो मे जिस स्पेनी डॉलर का प्रचलन था उसका प्रयोग अमेरिका में भी किया जाता था। April अप्रैल 1792 को, अलेक्जेंडर हैमिल्टन, जो उस समय राजकोष सचिव थे उन्होंने राष्ट्रीय कांग्रेस के सामने एक प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। इस प्रतिवेदन के आधार पर डॉलर परिभाषित किया गया जिसे माप की इकाई माना गया इस तरह us dollar का आरंभ हुआ पुराने डॉलर में राष्ट्रपतियों का चित्र नही दिखाया जाता था परन्तु वर्तमान में प्रचलित पूर्व के मृत राष्ट्रपतियों का चित्र छापा जाता है।

अमेरिकी dollar का चिह्न “($)” है अमेरिकी डॉलर को दर्शाने के लिए united states के us को जोड़ दिया गया, डॉलर के नोट 1,5,10,20,50 और 100 के डॉलर छापे जाते है। अमेरिकन 1 डाॅलर की कीमत भारतीय मुद्रा में लगभग 73 रूपये के बराबर है।

Read also :-

Leave a Reply