एटम बम से हमला किए जाने वाला पहला शहर कौन सा है ।

युद्ध हमेशा अपने साथ विनाश ही लाता है, यही युद्ध की सच्चाई है। इतिहास में ऐसे अनेक युद्ध हुए जिसका अंत काफी दुखद ही हुआ है। ऐसा ही एक युद्ध, जिसे इतिहास का सबसे खूनी युद्ध भी कहा जाता है, द्वितीय विश्व युद्ध था। 6 साल तक चलने वाला यह युद्ध बहुत ही  विनाशकारी मोड़ पर जा कर खत्म हुआ था। इस युद्ध का अंत अमेरिका द्वारा जापान पर दो परमाणु हमले के बाद खत्म हुआ था।

atom bomb se hamla kiya jane wala first city

ये तो सामान्यतः हम जानते हैं कि अमेरिका ने जापान पर परमाणु हमला किया था लेकिन क्या आप जानते हैं कि विश्व में सबसे पहले कहाँ परमाणु बम गिराया गया था यानी कि एटम बम से हमला किए जाने वाला पहला शहर कौन सा है? इस प्रश्न का उत्तर हम इस लेख में बताएंगे। एटम बम से हमला किए जाने वाला पहला शहर कौन सा है, इसका उत्तर तो इस लेख में मिलेगा ही साथ ही हम बात करेंगे कुछ अन्य महत्वपूर्ण पहलुओं की। तो सबसे पहले आपको बता दें कि सबसे पहला परमाणु बम से हमला जापान के हिरोशिमा शहर पर हुआ था। अब तक सिर्फ दो बार ही विश्व में परमाणु हमला हुआ है और दोनो ही जापानी शहर पर हुए थे।

  • हिरोशिमा – एटम बम से हमला किया जाने वाला पहला शहर
  • हिरोशिमा

हिरोशिमा जापान का सबसे बड़ा Island है। इसे 1 अप्रैल 1889 को शहर का दर्जा दिया गया था। हिरोशिमा का कुल क्षेत्रफल 906.53 वर्ग किलोमीटर है। यहां के जनसंख्या की बात करें तो 2016 के अनुसार यहां 11,96,274 थी। हिरोशिमा मौजूदा समय में जापान के महत्वपूर्ण शहरों में से एक है लेकिन इस शहर के साथ कभी न मिटने वाला दर्द भी जुड़ा हुआ है क्यों कि विश्व इतिहास का पहला परमाणु बम इसी शहर में गिराया गया था।

  • हिरोशिमा का इतिहास

दूसरे विश्व युद्ध के समय जापान के बड़े शहर बुरी तरह युद्ध की चपेट में थे। दूसरे विश्व युद्ध में राष्ट्र मित्र के खिलाफ लड़ते हुए आत्म समर्पण न करने की नीति के कारण युद्ध का अंत नही हो रहा था। जब दूसरे हिस्से युद्ध की चपेट में थे तब हिरोशिमा जापान के सुरक्षित स्थानों में से एक था। युद्ध के नज़रिए से यह बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान था क्यों कि यहां जापानी सेना का मुख्यालय था। दूसरे विश्व युद्ध के समय जापानी साम्राज्य के अंतर्गत आने वाले Second General Army तथा Chugoku Regional Army का मुख्यालय यहीं था। इसके अलावा यह आर्थिक दृष्टि से भी जापान के लिए काफी महत्वपूर्ण था।

  • हिरोशमा पर परमाणु हमला

दूसरा विश्व युद्ध काफी भयानक रूप ले चुका था। जापानी सेना हार नही मान रही थी। इस कारण अमेरिका ने कुछ अलग फैसला लिया। हिरोशिमा के लिए 6 अगस्त 1945 का दिन एक काला दिन साबित हुआ। सुबह के 8:15 हो रहे थे, सभी लोग अपने काम में लगे थे, तभी ज़ोरदार धमाका हुआ। मिनटों में ही सारा शहर ढेर हो चुका था क्यों कि यहां विश्व इतिहास का पहला परमाणु बम विस्फोट हो चुका था।

अमेरिका ने Little Boy नाम के बम को हिरोशिमा पर गिराया जिस कारण तत्काल ही यानी बम के गिरते हुए लगभग 70,000  लोग मर गए इसमें 20 हज़ार जापानी सैनिक भी शामिल थे। समय के साथ मरने वाले कि संख्या बढ़ती गयी। अनुमान के मुताबिक यहां लगभग 90,000 – 166,000 लोग मारे गए। विस्फोट के कारण यहां के 70% घर तबाह हो गए थे। इस धमाके के दुस्प्रभाव आज भी इस हिस्से में देखे जा सकते है।

इस लेख को पढ़ने के बाद आपको पता चल गया होगा कि एटम बम से हमला किए जाने वाला पहला शहर कौन सा है। अगर आप इसे लेख से संबंधित कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स में पूछे। इसके अलावा आप अपने सुझाव भी कमेंट बॉक्स में दे सकते हैं। इसी तरह के लेख प्राप्त करते रहने के लिए इस Website से जुड़े रहें।

4 Comments

  1. Vyas Ashish January 27, 2019
    • Arvind Patel January 27, 2019
  2. SHIVA January 30, 2019
    • Arvind Patel January 30, 2019

Leave a Reply