भारत के दक्षिण-पूर्व में कौन सी खाड़ी है।

भारत का दक्षिणी क्षेत्र पूरी तरह से जलमग्न क्षेत्र है। अर्थात इस ओर बड़े-बड़े समुन्द्र मौजूद हैं। ये समुन्द्र हर मायने में भारत समेत विश्व के उन सभी देशों के लिए खासा महत्व रखता है, जो कि इनके अंतर्गत आते हैं। ये समुन्द्र बड़े स्तर पर देश की बड़ी-बड़ी नदियों का समागम क्षेत्र बनता है यानी कि नदियाँ इन्ही समुन्द्रों में आकर अपना पानी छोड़ती है। इन समुन्द्रों का देश के मौसम पर भी खासा प्रभाव पड़ता है क्योंकि वर्षा की स्तिथि इत्यादि इनपर काफी निर्भर करती है।

bharat ka dakshni purv khani ka naam kya hai

भारत मे सागर, महासागर के अलावा खाड़ी भी मौजूद है। प्रश्न के अनुसार बात करें तो भारत के दक्षिण पूर्व की दिशा में एक बड़ी सी खाड़ी मौजूद है। इस खाड़ी को बंगाल की खाड़ी ( Bay Of Bengal ) के नाम से जाना जाता है। बंगाल की खाड़ी दुनिया की सबसे बड़ी खाड़ी है। इस खाड़ी का भी स्त्रोत हिन्द महासागर ही है। यानी कि बंगाल की खाड़ी भी हिन्द महासागर से निकलती है। आपको बता दें कि अरब सागर भी हिन्द महासागर से मिलती है।

बंगाल की खाड़ी – भारत के दक्षिण पूर्व में मौजूद खाड़ी

हिन्द महासागर के पूर्वोत्तर भाग से बंगाल की खाड़ी जुड़ा हुआ है। बंगाल की खाड़ी पश्चिम तथा उत्तर पश्चिम से भारत से घिरा है। पूर्व दिशा में बंगाल की खाड़ी म्यांमार तथा भारत के अंतर्गत आने वाले अंडमान द्वीप से घिरा है। बंगाल की खाड़ी विश्व में सबसे बड़ा जल स्रोत है। बंगाल की खाड़ी पर एशियाई देश खास कर दक्षिणी एशियाई तथा दक्षिण पूर्व एशिया के देश खासे निर्भर हैं।

देश के हिसाब से देखें तो बंगाल की खाड़ी से सटे देशों में भारत के कई पड़ोसी देश शामिल है। बंगाल की खाड़ी के तटीय देशों में बंगलादेश, भारत, इंडोनेशिया, म्यांमार तथा श्रीलंका शामिल है।

बंगाल की खाड़ी के क्षेत्रफल की बात करें तो इसका कुल क्षेत्रफल 21,72,000 स्क्वायर किलोमीटर है। इसकी लंबाई 2090 किलोमीटर तथा चौड़ाई 1610 किलोमीटर है। है। बंगाल की खाड़ी के औसतन गहराई की बात करें तो इसकी औसत गहराई 2600 मीटर है तथा इसकी अधिकतम गहराई 4694 मीटर है।

बंगाल की खाड़ी में गिरने वाली नदियां

जैसा कि बंगाल की खाड़ी कई अलग-अलग देशों तक जाती है, इस कारण बंगाल की खाड़ी में कई देशों की नदियों का भी समागम यानी मिलन होता है। इसमें बड़ी संख्या में नदियां अपना पानी छोड़ती है। भारत के प्रमुख नदियों के बात करें तो बंगाल की खाड़ी में ब्रह्मपुत्र, गंगा, हुगली, भारत तथा बंगलादेश की प्रमुख नदियों में शामिल पद्मा नदी भी बंगाल की खाड़ी में ही गिरती है। इसके अलावा जमुना, भारत में मौजूद 2410 किलोमीटर लंबाई के साथ एशिया की सबसे लंबी नदियों में गिनी जाने वाली बराक नदी, कृष्णा, कावेरी, गोदावरी महानन्दी इत्यादि शामिल है।

इसके अलावा बंगाल की खाड़ी में बांग्लादेश की प्रमुख नदी माने जाने वाली सुरमा नदी, मेघना नदी, म्यांमार की Irrawaddy River, इत्यादि शामिल है। इसके अलावा बंगाल की खाड़ी इन देशों की अर्थव्यवस्था में भी खासा महत्व रखता है। इस कारण इन देशों ने बंगाल की खाड़ी में भी बंदरगाह का निर्माण किया हुआ है। इसमें मौजूद भारत के प्रमुख बंदरगाह की बात करें तो इसमें Chennai – Ennore, Kolkata – Haldia, Port Blair, विशाखापटनम इत्यादि बंदरगाह ( Port ) शामिल है।

Leave a Reply