भारत का पूर्व से पश्चिम दिशा तक का विस्तार कितना है।

भारत के भौगोलिक स्वरूप में चारों और की दिशाओं का अपना अलग-अलग विस्तार एवं विशेषता है। कई बार प्रतियोगी परीक्षाओं में भूगोल के question paper में ये पूछा जाता है कि भारत के भौगोलिक स्वरूप में पूर्व से पश्चिम दिशा तक का विस्तार कितना है? भारत के भूगोल में ऐसे प्रश्न अक्सर उलझन पैदा कर देते हैं, क्योंकि हमें सभी दिशाओं का knowledge रखना होता है। लेकिन आज इस topic को हम clear तरीके से आपको समझाने वाले हैं ताकि आपको इस topic में उलझने की जरूरत ना पड़े। आगे इस topic को पूरा विश्लेषण करके समझाने की कोशिश की है।

bharat ka purva se pakshim tak ka viskat kitna hai

भारत का पूर्व से पश्चिम दिशा तक का विस्तार

भारत के भौगोलिक स्वरूप के अनुसार पूर्व से पश्चिम तक का विस्तार यानी चौड़ाई 2933 कि.मी. है। यदि आप भारत के मानचित्र को देखते हैं, तो आपको उसकी चौड़ाई पर focus करना है, क्योंकि वही भारत के पूर्व से पश्चिम तक का विस्तार कहलाता है।

भारत के पूर्व दिशा का विवरण

जब आप india के map में right hand side देखते हैं, तो वही पूर्व दिशा होती है। भारत के भौगोलिक स्वरूप में right side में पूर्व दिशा को एक point से पहचाना जाता है, जिसका नाम किबिथू है। ये point अरुणाचल में स्थित है।

भारत के पूर्व दिशा में भारत के ऐसे कई राज्य हैं, जिनके बारे में अक्सर exams में पूछा जाता है। इसीलिए इनके बारे में भी आपको एक दफा जान लेना चाहिए।

भारत के पूर्व में जो राज्य स्थित हैं उनके नाम

  1. उड़ीसा
  2. बिहार
  3. पश्चिमी बंगाल
  4. झारखंड

भारत की पश्चिम दिशा का विवरण

जिस प्रकार आप india के map में right side पूर्व दिशा देखते हैं, ठीक उसी प्रकार जब आप left side में देखते हैं तो आपको पश्चिम दिशा नज़र आती है। जिस तरह पूर्व दिशा, उत्तर दिशा और दक्षिण दिशा में points बनाकर नाम दिए गए हैं, उसी प्रकार पश्चिम दिशा में भी एक point से संकेत किया गया है। इस point का नाम सिर्क्रिक है। ये point गुजरात में स्थित है। कई बार इसके बारे में ये भी पूछ लिया जाता है कि ये कहां स्थित है, तो आप इसे ध्यान में रखें।

भारत के सभी राज्य चारों दिशाओं में व्याप्त हैं। उत्तर दिशा में अलग राज्य हैं, तो दक्षिण, पूर्व और पश्चिम में अलग। सभी की जलवायु अपनी-अपनी दिशाओं पर भी निर्भर करती है। आपको ये जान लेना जरूरी है कि भारत के पश्चिम में कौन-कौन से राज्य आते हैं। क्योंकि कई बार ये प्रश्न भी कई competition exams में पूछा गया है।

भारत के पश्चिम में स्थित राज्य

  1. गुजरात
  2. महाराष्ट्र
  3. दमन एवं दीव
  4. दादरा एवं नगर हवेली
  5. गोआ

आज हमने भारत की geography में important topic को कवर किया है। जिसमें हमने भारत के पूर्व से पश्चिम दिशा तक के विस्तार को विस्तार से जाना है। आपको एक-एक दिशा को हमने विश्लेषित करके बताया है, ताकि आप इसमें confuse ना हो। उम्मीद है ये आपके प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए खास जरूर होंगे।

Leave a Reply