भारत का सबसे बड़ा सिनेमाघर कौनसा और कहाँ है।

भारतीय फिल्म इंडस्ट्री विश्व के Top के फ़िल्म इंडस्ट्री में से एक गिनी जाती है। भारत में फिल्मों का कारोबार करोड़ों का है इस कारण फ़िल्म उद्योग भारत के बड़े उद्योगों में भी गिनी जाती है। भारत में फिल्में कई तरह की बनती है। Bollywood सबसे बड़ी भारतीय फिल्म इंडस्ट्री है। लेकिन इसके अलावा भी भारत में हिंदी के अलावा अन्य क्षेत्रीय भाषाओं में भी फिल्में बनती है।

bharat ka sabse bada cinema ghar koun sa hai

फिल्मों की कामयाबी और कमाई का सबसे बड़ा जरिया सिनेमाघर ( Movie Theater ) है। फ़िल्म बनने के बाद इन्हीं सिनेमाघरों से प्रदर्शित होती है। इस कारण बड़े फ़िल्म इंडस्ट्री होने के कारण भारत में बड़ी संख्या में सिनेमाघर भी मौजूद है। यहां कई तरह के सिनेमाघर हैं। जिनमें कुछ Multiscreen वाले हैं, तो कुछ सिंगल स्क्रिन है। कुछ काफी बड़े होते हैं तो कुछ की क्षमता कम होती है।  भारत में मौजूद सभी सिनेमा घरों में सबसे बड़ा सिनेमाघर राजस्थान के जयपुर शहर में मौजूद राज मंदिर सिनेमा है। यह सिनेमा हॉल अपने शाही बनावट के लिए विश्व भर में जाना जाता है।

राज मंदिर – जयपुर में स्तिथ भारत का सबसे बड़ा सिनेमाघर

राजस्थान का जयपुर शहर यानी पिंक सिटी के नाम से जाना जाने वाला शहर अपने राजशाही इतिहास के लिए जाना जाता है। यहां पुराने समय के कई ऐतिहासिक धरोहर हैं जिसे देखने प्रत्येक साल बड़ी संख्या में पर्यटक आते रहते हैं। इन ऐतिहासिक धरोहरों के अलावा भी एक और भी चीज़ जयपुर में मौजूद है जो कि जयपुर को विश्व स्तर पर बड़ी पहचान दिलाता है।

जयपुर में मौजूद राज मंदिर ( Raj Mandir ) सिनेमाघर भारत के सबसे बड़े सिनेमाघर में गिनी जाती है। इस हॉल में एक साथ 1300 लोगों के बैठ कर फ़िल्म देखने की सुविधा है। इतनी बड़ी संख्या में लोगों के बैठ के फ़िल्म देखने की क्षमता के कारण ही यह हॉल भारत का सबसे बड़ा हॉल भी है। भारत के सबसे बड़े सिनेमाघर के साथ साथ राज मंदिर एशिया का भी सबसे बड़ा सिनेमाघर है।

भारत के इस सबसे बड़े सिनेमा घर की नींव उस समय राजस्थान ले तत्कालीन मुख्यमंत्री के द्वारा   1966 को डाला गया तथा यह बड़े ही काबिल लोगों की देख रेख में तैयार किया गया। इस विशाल हॉल को बनने में लगभग 10 साल का समय लगा था। इसमें पहली फ़िल्म 1976 में आई Charas थी।

जैसा कि राजस्थान अपने राजशाही ठाठबाट के लिए जाना  जाता था इसलिए Raj Mandir के निर्माण में भी राजशाही ठाठबाट का पूरा ध्यान रखा गया। इस कारण राज मंदिर भारत और एशिया का सबसे बड़ा सिनेमा घर होने के अलावा भी अपनी बेहतरीन भव्य सजावट, सुंदरता और भव्यता के लिए भी जाना जाता है। इसके निर्माण में इसकी साज सज्जा पर काफी ध्यान दिया गया था। इस कारण जब आप इस हॉल में फ़िल्म का आनंद लेते है तो यह एक बेहतरीन अहसास दिलाता है।

इस हॉल की भीतरी और बाहरी सजावट इस तरह की गई है कि यह किसी महल से कम नही लगता है। इसके झूमर, लाइटिंग सिस्टम को बड़े ही बेहतरीन तरीके से Design किया गया है। इस हाल को इसी भव्यता के कारण समय समय पर सिनेमा जगत का महत्वपूर्ण पुरस्कार मिलता रहा है। राज मंदिर को ” एशिया का गौरव ”  भी कहा जाता है।  यह हॉल में चार तरह के Stand है, और इनके नाम भी बड़े ही शाही अंदाज़ में पर्ल, रूबी, एमराल्ड  एवं डायमंड रखे गए है।

Leave a Reply