भारत का सबसे बड़ा संग्रहालय कौन सा है।

इतिहास को और बेहतर ढंग से तथा करीब से समझने में संग्रहालय ( Museum ) हमारी खासी मदद करता हैं। संग्रहालय में इतिहास को समेटने की कोशिश होती है। साथ ही यहां ऐसी चीज़ें भी देखने को मिलती है जो कि सामान्य रूप से देखने को नहीं मिलता तथा वह Rare होते हैं। भारत में कई ऐसे संग्रहालय मौजूद है जिसमें इतिहास की कई दुर्लभ चीज़ें देखने को मिल जाते हैं।

bharat ka sabse bada sangrahalaya koun sa hai

भारत में संग्रहालयों का इतिहास काफी पुराना है तथा यहां अलग अलग स्तर के Museum देखने को मिल जाते हैं। भारत में मौजूद सबसे बड़ा संग्रहालय ( Museum ) भारत में अंग्रेज़ो के आने के बाद अस्तित्व में आया था। देश में मौजूद Museum अपने आकर और इसमें जमा की गई चीज़ों के आधार पर भिन्न हैं। इसी आधार पर भारत के सबसे बड़े संग्रहालय की बात करें तो, भारत का सबसे बड़ा संग्रहालय कोलकाता में मौजूद इंडियन संग्रहालय ( Indian Museum ) है। Indian Museum भारत के सबसे बड़े Museum होने के साथ साथ देश के पुराने Museum में भी गिना जाता है।

Indian Museum – भारत का सबसे बड़ा संग्रहालय

Indian Museum की शुरुआत Asiatic Society of Bengal के द्वारा पश्चिम बंगाल के शहर कोलकाता में कई गयी थी। इसकी नीव 1814 में रखी गयी थी। इस Museum की के Founder Nathaniel Wallich थे। इनका पूरा नाम Nathaniel Wolff Wallich था। यह एक सर्जन और वनस्पति विज्ञान के बड़े ज्ञानी थें। Wallich Danish मूल के थे लेकिन उन्होने कलकत्ता को अपना ठिकाना बनाया। इनको Calcutta Botanical Garden के Development में दिए योगदान के लिए भी याद किया जाता है।

Indian Museum का शुरुआती नाम Imperial Museum हुआ करता था। ब्रिटिश शासनकाल के समय के लेखों में इस Museum का नाम The Imperial Museum at Calcutta दर्ज मिलता है। इस Museum में बड़ी संख्या में अलग अलग प्रकार की बहुमुल्य और दुर्लभ चीज़े रखी हुई हैं। इस Museum में रखी गयी वस्तुओं में मुख्यतः कई ऐतिहासिक और प्राचीन वस्तुएं, कवच, ज्वेलरी, कई जानवरो के कंकाल तथा कुछ दुर्लभ जीवों के अवशेष तथा संरक्षित किया हुआ शव ( Mummies ) शामिल है। इस संग्रहालय का एक और बड़ा आकर्षण का केंद्र मुग़ल काल की Paintings भी है। इसके अलावा यहां कई बेशकीमती ऐतिहासिक मूर्तियां भी देखने को मिलती है।

इस Museum के 6 Sections है। इनमें 35 Gallery हैं जिसमें कई Scientific और सांस्कृतिक कलाकृतियां मौजूद है। इन Gallery में कई Unique और Rare Specimens रखी गयी हैं। इसमें शामिल वस्तुओं में भारतीय सामानों के अलावा विदेशी वस्तु भी शामिल है। समय के साथ इस Museum में बहुत सो चीज़े जोड़ी जाती रही है। इसी के तहत कुछ साल पहले यह Museum कुछ महीनों के लिए आम जनता के लिए बंद कर दिया गया था।

1 सितंबर 2013 से ले कर 3 फरवरी 2014 तक  यहां बड़े स्तर पर आधुनिकरण, Restoration और Upgrade का काम किया गया जिस कारण यह बंद रहा था। पूरे काम के बाद इसे जनता के लिए नए रूप में खोला गया। यह Museum बड़े स्तर पर अपनी ओर लोगों को आकर्षित करने में कामयाब रहा है। इस कारण यह देश के प्रमुख पर्यटक स्थलों में भी गिनी जाती है। यह Museum मौजूदा समय में भारत सरकार के Ministry of Culture के अंतर्गत आता है।

Leave a Reply