भारत का सबसे लोकप्रिय खेल कौनसा है।

विविधताओं से भरे भारत में विविध प्रकार के खेल भी खेले जाते हैं। अलग – अलग राज्यों में अलग – अलग खोलों को महत्व दिया जाता है। इन सब विविधताओं में बावजूद एक ऐसा खेल है जो बड़ी संख्या में भारतीयों को एक साथ जोड़ता है। हम बात कर रहे हैं क्रिकेट की। लोकप्रियता के आधार पर भारत में क्रिकेट सबसे अधिक पसन्द किया जाने वाला खेल है। पसन्द के मामले में क्रिकेट के आसपास कोई दूसरा खेल भटकता भी नज़र नही आता है।

bharat ka sabse famouns game koun sa hai

भले ही विकसित देशों मे क्रिकेट उतना लोकप्रिय न हो इसके बावजूद क्रिकेट विश्व में दूसरा सबसे अधिक पसन्द किया जाने वाला खेल है। फुटबॉल जो स्थान फ्रांस, जर्मनी, रूस इत्यादि देशों में रखता है वही स्थान क्रिकेट का भारत में है। क्रिकेट भारत के अलावा इसके पड़ोसी मुल्कों में बड़े स्तर पर खेला जाता है। इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका के देशों में भी बड़े स्तर पर क्रिकेट खेला जाता है।

क्रिकेट का भारत में लोकप्रिय होने के कारण

भारत के आज़ाद होने से पहले और इसके कुछ साल बाद तक भारत में हॉकी का ज़बरदस्त क्रेज़ था। भारत का विश्व हॉकी में तूती बोलती थी। लेकिन समय के साथ भारतीय हॉकी का सूर्य अस्त होने लगा। इसका फायदा क्रिकेट को हुआ। भारत समय के साथ अपने खेल में सुधार करता गया और लोग इसकी चमक धमक की ओर बड़ी संख्या में आकर्षित होने लगे देखते ही देखते क्रिकेट भारत का नंबर एक खेल बन गया। कहा जा सकता है की हॉकी की नाकामी भी भारत में क्रिकेट की सफलता का कारण बना।

भारत में क्रिकेट

क्रिकेट का जनक इंग्लैंड को माना जाता है लेकिन क्रिकेट का इतिहास भारत में भी काफी पुराना है। भारत में पहली बार 1721 में क्रिकेट मैच खेला गया घ।  इंग्लैंड से होते हुए भारत आते ही यह लोगों द्वारा अच्छा खासा पसन्द किया जाने लगा। भारत में पहला 1st class मैच सन 1864 में मद्रास और कलकत्ता के बीच खेला गया था। इस मैच के बारे में कोई ज़्यादा ब्यौरा मौजूद नही है। 19वी सदी में अंग्रेज़ी हुकूमत में ही भारतीय क्रिकेट फलता फूलता रहा।

1926 में ICC द्वारा मान्यता पाने के बाद भारत को कुछ साल बाद पहली बार टेस्ट क्रिकेट खेलने का मौका मिल गया। भारत ने अपना पहला अंतराष्ट्रीय मैच इंग्लैंड के खिलाफ क्रिकेट का मक्का कहे जाने वाले ऐतिहासिक लॉर्ड्स के मैदान पर खेला था। यह  मैच 25 से 28 जून 1932 को खेला गया। इस मैच में भारत को 158 रन से हार का सामना करना पड़ा था।

भारत को पहली जीत इसके 24वें मैच में मिली। भारतीय दौरे पर आयी इंग्लैंड की टीम को 1952 में भारत ने हराया। इसके बाद भारत ने इसी साल पाकिस्तान के खिलाफ पहली सीरीज़ भी जितने में कामयाब रहा। इसके बाद उतार चढ़ाव से गुज़रते हुए 1983 एकदिवसीय विश्वकप भारत अपने नाम करने में कामयाब रहा। इसके बाद तो भारतीय टीम एक क्रिकेट की बड़ी ताकत बन कर उभड़ा। आज भारतीय क्रिकेट टीम की पूरे विश्व में धाक है साथ ही भारतीय क्रिकेट बोर्ड सबसे अमीर बोर्ड के रूप में भी गिना जाता है।

Read also :-

Leave a Reply