भारत का स्वास्थ्य मंत्री कौन है 2020

भारत के स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन हैं। डॉ हर्षवर्धन केंद्र सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं और स्वास्थ्य मंत्री के साथ-साथ भारत के केंद्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्री और विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी मंत्री भी हैं। देश में स्वास्थ्य संबन्धित नीतियों का क्रियान्वयन भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अधीन होता है। इस कारण डॉ हर्षवर्धन भारत सरकार में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री के पद पर हैं।

भारत की पहली स्वास्थ्य मंत्री राजकुमारी अमृत कौर थीं। 1947 से लेकर वर्तमान 2020 में डॉ हर्षवर्धन के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री बनने तक भारत में कुल मिलाकर 17 अलग-अलग व्यक्ति स्वास्थ्य मंत्री बन चुके हैं। 2019 में स्वास्थ्य मंत्री बने डॉ हर्षवर्धन भारत के 17वें स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री हैं। डॉ हर्षवर्धन भारतीय जनता पार्टी के सदस्य हैं और दिल्ली से लोक सभा सांसद हैं। 17वीं लोकसभा का चुनाव डॉ हर्षवर्धन ने दिल्ली की चाँदनी चौक लोकसभा सीट से लड़ा था और भारी मतों से जीत हासिल की थी।

bharat ke swasthya mantri

डॉ हर्षवर्धन कब से भारत के स्वास्थ्य मंत्री हैं ?

श्री नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री के रूप में दूसरे कार्यकाल में श्री हर्षवर्धन जी को 31 मई 2019 को केंद्रीय मंत्री के रूप में शपथ दिलाई गयी थी। तब से ही वे भारत के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के प्रमुख के रूप में कार्य कर रहे हैं।

डॉ हर्षवर्धन का स्वास्थ्य मंत्री के रूप में ये दूसरा कार्यकाल है। इससे पहले भी वे भारत के स्वास्थ्य मंत्री रह चुके हैं। 2014 में नरेंद्र मोदी की अगुवाई में राष्ट्रीय जनतान्त्रिक गठबंधन की सरकार में उन्हे यह पद दिया गया था। वे पहली बार 26 मई 2014 को भारत सरकार में केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री बने थे।

इस पद पर उनका पहला कार्यकाल 26 मई 2014 से 9 नवम्बर 2014 तक चला था। 9 नवम्बर 2014 के बाद उन्हे केंद्रीय कैबिनेट मंत्री, विज्ञान और प्रौद्योगिकी; और पृथ्वी विज्ञान का कार्यभार सौंप दिया गया था। इस पद पर वे 25 मई 2019 तक कार्यरत थे। वर्तमान 2019 में श्री अश्वनी कुमार चौबे भारत के केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री हैं।

  1. स्वास्थ्य मंत्री के रूप में डॉ हर्षवर्धन का पहला कार्यकाल :- 26 मई 2014-9 नवम्बर 2014
  2. स्वास्थ्य मंत्री के रूप में डॉ हर्षवर्धन का दूसरा कार्यकाल :- 30 मई 2019-वर्तमान

डॉ. हर्षवर्धन से पहले स्वास्थ्य मंत्री कौन था ?

17वीं लोकसभा में डॉ हर्षवर्धन के मंत्री बनने से पहले 16वीं लोकसभा में नरेंद्र मोदी की पहली सरकार थी। बीजेपी की सरकार में डॉ हर्षवर्धन से पहले केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री श्री जे० पी० नड़ड़ा जी थे। जगत प्रकाश नड़ड़ा जी 9 नवम्बर 2014 से 28 मई 2019 तक इस पद पर थे। केंद्र में 2014 से पहले भारतीय राष्ट्रीय कॉंग्रेस की सरकार थी। 2009 से लेकर 2014 तक भारत के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री गुलाम नबी आजाद थे।

डॉ हर्षवर्धन: एक परिचय

  • नाम: हर्ष वर्धन                                                                                  
  • जन्म: 13 दिसम्बर 1954 (दिल्ली)                                                                            
  • पिता: स्वर्गीय श्री ओमप्रकाश गोयल                                                            
  • माता: श्रीमती स्नेह लता                                    
  • पत्नी: श्रीमती नूतन (विवाह-26 फ़रवरी 1982)                                        
  • पुत्र: 2                                                                                                   
  • पुत्री: 1                                                                                                                 
  • शिक्षा: एमबीबीएस, एमएस (ईएनटी), जी.एस.वी.एम. मेडिकल कॉलेज, कानपुर, उत्तर प्रदेश                                                                                                      
  • राजनैतिक पार्टी: भारतीय जनता पार्टी  
  • सांसद: चाँदनी चौक, दिल्ली

श्री हर्षवर्धन का जन्म दिसम्बर 1954 में दिल्ली में हुआ था और वे अपने पिता स्वर्गीय श्री ओमप्रकाश गोयल की दूसरी संतान हैं। उनके परिवार में उनसे बड़ी एक बहन और एक छोटा भाई हैं। बचपन से ही वे राष्ट्रीय स्वयं सेवक ( RSS) के कार्यकर्ता हैं। उन्होंने दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन में विभिन्न पदों पर कार्य किया है जिनमें सचिव और अध्यक्ष का पद शामिल हैं।

डॉ हर्षवर्धन ने भारत में पल्स पोलियो कार्यक्रम का नेतृत्व किया है। उन्होंने 2 अक्टूबर 1994 के दिन  (महात्मा गांधी का जन्मदिन) 12 लाख बच्चों का सामूहिक पोलियो टीकाकरण किया था।

डॉ हर्षवर्धन का भारतीय जनता पार्टी में बहुत लंबा अनुभव है। 1993 में राजनैतिक जीवन में प्रवेश करने से पहले वे एक ईएनटी सर्जन थे। पहली बार वे पूर्वी दिल्ली में कृष्ण नगर निर्वाचन क्षेत्र से दिल्ली विधानसभा के लिए चुने गए थे। 1993 से लेकर 1998, 2003, 2008 और 2013,अगले 5 विधानसभा चुनावों में लगातार उन्होने इस विधानसभा सीट से जीत दर्ज की। दिल्ली में राजनैतिक जीवन में दिये गए योगदान के कारण भारतीय जनता पार्टी ने उन्हे 2013 के दिल्ली विधानसभा चुनाव में अपना मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया था।

केंद्र की राजनीति में उनका प्रवेश 2014 में हुआ जब पहली बार उन्होने लोकसभा चुनाव लड़ा था। डॉ हर्षवर्धन ने अपना पहला लोकसभा चुनाव दिल्ली की चाँदनी चौक लोकसभा सीट से लड़ा था और जीत हासिल की थी। इसके बाद 2019 में भी वे दूसरी बार चाँदनी चौक लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी की ओर से चुनाव जीतने में सफल रहे थे।

भारत के भूतपूर्व प्रधान मंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी ने एक बार डॉ० हर्षवर्धन के बारे में कहा था: “वे आम आदमी की सेवा के लिए अपने चिकित्सकीय ज्ञान और अनुभव का उपयोग करने के प्रशंसनीय उद्देश्य के साथ भारतीय राजनीति में शामिल हुए हैं।”

नरेंद्र मोदी सरकार में स्वास्थ्य मंत्री के रूप में अपने पहले कार्यकाल में डॉ हर्षवर्धन ने सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली में कई सुधारों की शुरुआत की थी।

स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने किन राजनैतिक पदों पर कार्य किया है

  • 30 मई 2019 से वर्तमान:  केंद्रीय कैबिनेट मंत्री, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण; विज्ञान और तकनीक; और पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय
  • 23 मई 2019 से: चाँदनी चौक से लोकसभा सांसद
  • 18 मई 2017-25 मई 2019: केंद्रीय कैबिनेट मंत्री, पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय
  • 9 नवंबर 2014-25 मई 2019: केंद्रीय कैबिनेट मंत्री, विज्ञान और प्रौद्योगिकी; और पृथ्वी विज्ञान
  • 27 मई 2014-9 नवंबर 2014: केंद्रीय कैबिनेट मंत्री, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण
  • मई 2014: चाँदनी चौक से 16 वीं लोकसभा के लिए चुने गए
  • 1993–1998: स्वास्थ्य, शिक्षा, कानून और न्याय और विधायी मामलों के मंत्री, दिल्ली सरकार।
  • 1993-2014: सदस्य, दिल्ली विधान सभा (लगातार पाँच कार्यकाल )

पुरस्कार और सम्मान:

स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन जी को सामाजिक जीवन में दिये गए योगदान के लिए कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय सम्मान और पुरस्कार प्रदान किए गए हैं। इनमें प्रमुख ये हैं-

  1. 1 जुलाई 2002 को “डॉक्टर दिवस” पर उन्हें इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की नई दिल्ली शाखा द्वारा ” डॉक्टर ऑफ द लास्ट डेकेड” (पिछले दशक के सबसे भद्र चिकित्सा प्रचारक) के रूप में नामित किया गया था।
  2. डॉ० हर्षवर्धन को दो बार रोटरी इंटरनेशनल द्वारा “पॉल हैरिस फैलोशिप” से सम्मानित किया गया।
  3. इटली में स्थित इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ पोलिपैथी ने उन्हें 1996 में फेलो के रूप में नामित किया था।
  4. 1995 में उन्हे लायंस इंटरनेशनल सर्विस अवार्ड से सम्मानित किया गया।
  5. 1994 में उन्हे “IMA प्रेसिडेंट स्पेशल अवार्ड ऑफ़ एप्रिसिएशन” से सम्मानित किया गया।
  6. इसके अलावा हर्षवर्धन जी को 1995 और 1996, दो वर्षों के लिए “आइएमए स्पेशल अवार्ड फॉर एमिनेंट मेडिकल अचीवमेंट ऑफ़ हाइएस्ट ऑर्डर” प्राप्त हुआ।

भारत की कई प्रतिष्ठित सामाजिक संस्थाओं और संगठनों ने भी डॉ० हर्षवर्धन को सम्मानित किया है। इनमें निम्नलिखित पुरस्कार/सम्मान प्रमुख हैं-

  • महाराजा अग्रसेन मंच ने उन्हें 1994 में ‘अग्रवाल रतन पुरस्कार’ प्रदान किया।
  • 1996 में जैन महासभा ने उन्हें ‘अहिंसा सम्मान’ प्रदान किया।
  • 1996 में ही ‘सेवाश्री सम्मान’ से सम्मानित।
  • दिल्ली रत्न पुरस्कार
  • आचार्य क्षेमचंद सुमन सेवा समिति ने उन्हें वर्ष 2001 के लिए प्रतिष्ठित आचार्य सुमन श्री सम्मान प्रदान किया।
  • रोटरी क्लब ऑफ दिल्ली अपटाउन ने वोकेशनल एक्सीलेंस अवार्ड दिया।
  • उपलब्धियों और योगदान के लिए इंडिया इंटरनेशनल फ्रेंडशिप सोसायटी की तरफ से तमिलनाडु के पूर्व राज्यपाल डॉ० भीष्म नारायण सिंह से उत्कृष्टता का प्रमाण पत्र प्राप्त किया।
  • 2002 में पोलियो उन्मूलन के लिए अपनी प्रतिबद्धता और सेवाओं के लिए मुंबई में आयोजित पोलियो प्लस अंतर्राष्ट्रीय प्रेसिडेंट शिखर सम्मेलन में उन्हें सम्मानित किया गया।
  • 1999 में डॉ हर्षवर्धन ने दिल्ली के मुख्यमंत्री श्रीमती शीला दीक्षित से चिकित्सा पेशे में उत्कृष्टता के लिए सदी का ह्यूमन केयर अवार्ड प्राप्त किया।
  • अकादमिक उत्कृष्टता के लिए इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंटीग्रेटेड मेडिकल साइंस, वाराणसी ने उन्हें प्रमाण पत्र से सम्मानित किया।
  • उन्हे 1996 में आयोजित हुई विश्व पर्यावरण कांग्रेस में राष्ट्रीय पर्यावरण सेवा सम्मान प्रदान किया गया।
  • गंगा शरण सिंह राष्ट्रीय हिंदी संस्थान द्वारा अखिल भारतीय हिंदी सम्मेलन, 1996 में, राष्ट्रीय हिंदी सम्मान से भी वे सम्मानित किए गए हैं।

डॉ० हर्षवर्धन की एक प्रमुख पहल डब्ल्यूएचओ  के आवश्यक औषधि कार्यक्रम (WHO’s Essential Drug Programme ) को लागू करने में उनका योगदान था। इस कार्यक्रम ने सार्वजनिक स्वास्थ्य देखभाल के विषय पर  सरकारों के दृष्टिकोण में बहुत सकारात्मक परिवर्तन किया है।

डॉ हर्षवर्धन न केवल चिकित्सा के क्षेत्र में सक्रिय हैं बल्कि संस्कृति, कूटनीति और संबंधित क्षेत्रों में कई प्रतिष्ठित संगठनों के सदस्य भी हैं। भारत के वर्तमान स्वास्थ्य मंत्री श्री हर्षवर्धन जी का व्यक्तित्व बहुआयामी है और वे ग्रीन फोरम ( Green Forum) के संस्थापकों में से एक है। ग्रीन फोरम देश का पर्यावरण संरक्षण में रुचि रखने वाले नेताओं का पहला बहु-पक्षीय ( Multi Party) मंच है।

दुनिया की अग्रणी मेडिकल पत्रिकाओं में लेख लिखने के साथ-साथ डॉ०  हर्षवर्धन ने कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय वैज्ञानिक सम्मेलनों में शोध पत्र भी प्रस्तुत किए हैं।

डॉक्टर हर्षवर्धन द्वारा प्रकाशित पुस्तकें

  1. A Tale of Two Drops (English)
  2. कहानी दो बूंदों की (हिंदी)

वर्तमान में भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय में केंद्रीय मंत्री के रूप में कार्यरत डॉ हर्षवर्धन ने कई वर्षों तक विश्व स्वास्थ्य संगठन ( World Health Organisation) के सलाहकार के रूप में भी कार्य किया है।

डॉक्टर हर्षवर्धन का स्थाई पता

  • E-8A / 14, कृष्णा नगर, दिल्ली – 110051
  • दूरभाष: (011) 22096894, 09810115311 (मोबाइल)
  • भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय में दो विभाग हैं।
  • स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग
  • स्वास्थ्य अनुसंधान विभाग

2017 में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने 15 वर्षों के अंतराल के बाद नई स्वास्थ्य नीति प्रकाशित की थी।

Leave a Reply