भारत की सबसे ऊंची मूर्ति कौन सी है – longest statue of india

अगर हम भारत के इतिहास को देखें तो मूर्तियों का भारत देश के निवासियो के साथ शुरुआत से ही लगाव रहा है प्राचीन काल से ही भारत में मूर्तियों को भगवान के रूप में देखा जाता है शायद इसीलिए भारत में मंदिरों की संख्या भी दुनिया मे सबसे ज्यादा है जिनमें मूर्तियों के रूप में भगवान निवास करते हैं लेकिन मूर्तिया सिर्फ भगवान की ही नहीं होती उन इंसानों की भी होती हैं जिन्होंने अपने काम से ऊँचाईया हासिल की हैं उन इंसानों की मूर्तियां भी बनाई गई हैं आज की इस post में हम मूर्तियों से related ही बात करने वाले हैं कि भारत की सबसे ऊंची मूर्ति कौन सी है (which is the highest statue in india) और साथ ही जानेंगे कुछ अन्य मूर्तियों के बारे में जो भारत मे सबसे ऊँची है।

bharat ki sabse unchi murti kaha hai

 

Bharat ki sabse unchi murti ke baare me janakari

सबसे पहले तो आपको बता दें की भारत की दूसरी सबसे ऊंची मूर्ति राम भक्त हनुमान जी की एक विशाल प्रतिमा है जिन्हें वीर अभया अंजनेया स्वामी के नाम से जाना जाता है यह मूर्ति आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा शहर में स्थित है जिसकी ऊंचाई 135 फुट है इस मूर्ति की स्थापना 22 जून 2003 में की गई थी।

परन्तु अब वर्तमान में समय में india की सबसे ऊंची मूर्ति statue of liberty है। इस मूर्ति का बनाने का काम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 31 अक्टूबर 2013 को सरदार वल्लभभाई पटेल के जन्मदिन पर शुरू करवाया गया था। यह मूर्ति सरदार पटेल की एक विशाल प्रतिमा है जिसकी कुल ऊंचाई 182 मीटर मतलब 597 फीट है और अगर इसके आधार को जोड़ दिया जाए तो इस प्रतिमा की कुल ऊंचाई 790 फीट है।

यह मूर्ति 31 अक्टूबर 2018 को वल्लभभाई पटेल की 143 वी वर्षगाँठ पर बनकर तैयार हो चुकी है जो कि सिर्फ भारत ही नहीं पूरे विश्व की सबसे ऊंची मूर्ति है। सरदार वल्लभभाई की यह विशाल प्रतिमा गुजरात में स्थित सरोवर बांध से 3.2 किलोमीटर की दूरी पर नर्मदा नदी के एक टापू पर स्थित है जिसे साधु बेट के नाम से जाना जाता है।

इस मूर्ति के निर्माण में लगभग 2989 करोड़ रुपए का खर्च आया था जिसे बनाने के लिए 2200 भारतीय मजदूर और लगभग 200 चीनी मजदूरों ने साथ मिलकर ने दिन रात काम किया था। इस मूर्ति की खास बात यह है की इसमें दो लिफ्ट लगी हुई है जिसके जरिये सरदार वल्लभभाई पटेल प्रतिमा की छाती (chest) तक पहुँचकर सरदार सरोवर बाँध और यहाँ की खूबसूरत वादियों का आनंद लिया जा सकता है।

यह भी पढ़िए

Leave a Reply