भारत में कुल कितने टाइगर रिजर्व है इसकी संख्या कितनी है ?

समय के साथ कई महत्वपूर्ण जंगली जानवर एवं पक्षी विलुप्त होने के कगार पर हैं या कई तेज़ी से विलुप्त भी हो रहे हैं। बाघ भी एक ऐसा ही प्राणी है जिसकी संख्या भारत में काफी तेजी से घट रही थी। इसी कारण 2005 में National  Tiger  Conservation Authority (NTCA) की स्थापना की गई थी। यह भारत  सरकार के तहत आने वाली संस्था है।

NTCA के अंतर्गत ही भारत में टाइगर रिजर्व की शुरुआत की गई। इसके तहत भारत के विभिन्न राज्यों में ऐसे स्थानों को चिन्हित किया गया जहां बाघ रहते थे। इसके तहत देश भर में कुल 50 जगह वर्तमान समय में टाइगर रिजर्व के रूप में है। इन सभी के अंतर्गत कुल 71,027.1 वर्ग किलोमीटर का क्षेत्र आता है।

bharat me kitne tiger reserve hai

2006 में जब बाघ संरक्षण के कार्यक्रम को लागू किया गया तब भारत में बाघों की संख्या केवल 1411 ही थी। लेकिन संरक्षण के बाद बाघ की संख्या में बढ़ोतरी देखी गयी। 2010 में यह संख्या 1706 तथा 2014 में 2226 हो गयी। अंतिम बार बाघों की गिनती भारत में 2018 में हुई है। इसके अनुसार अब भारत में बाघों की संख्या 2967 हो चुकी है।

वर्तमान समय में देश में चल रहे 50 बाघ अभयारण्य में प्रमुख अभयारण्य कर्नाटक का बांदीपुर बाघ अभयारण्य, उत्तराखण्ड का Corbett, मध्य प्रदेश का कान्हा टाइगर रिजर्व, महाराष्ट्र का मेल घाट इत्यादि प्रमुख है। भारत मे पहली बार बाघ संरक्षण के लिए टाइगर रिजर्व की घोषणा 1973 – 1974 में ही की गयी थी। इसी के बाद देश में टाइगर रिजर्व की संख्या बढ़ कर 50 हो चुकी है। अंतिम बार नए टाइगर रिजर्व की घोषणा 2016 में हुई थी। तब असम के ओरांग तथा उत्तराखंड के Kamlang को टाइगर रिजर्व क्षेत्र घोषित किया गया था।

टाइगर रिजर्व योजना भारत के उन चुनिंदा योजनाओं में गिनी जाती है, जो कि बड़े स्तर पर सफल हुयी है।

Read more :-

Leave a Reply