भारत में कुल कितनी ट्रेनें हैं। Number Of Trains In India

जनसंख्या के हिसाब से विश्व के दूसरे सबसे बड़े देश भारत में करोड़ो लोग प्रत्येक दिन एक जगह से दूसरी जगह आने जाने के लिए ट्रेन का सहारा लेते हैं। इतनी बड़ी आबादी को लाने ले जाने के लिए बड़ी यातायात व्यवस्था की आवश्यकता होती हैं। इस आवश्यकता को काफी हद तक भारतीय रेल पूरा करती है। प्रत्येक दिन हज़ारों की संख्या मे ट्रेन यात्रीयों को ढोने के काम में परस्पर लगा रहता है। संख्या के हिसाब से भारत में 12,617 Passenger Trains हैं। इसके अलावा भारत में 7,349 मालगाड़ी भी है जो कि प्रत्येक दिन हज़ारों टन सामान ढोता है।

bharat me kul kitni train hai

भारतीय रेल के बारे में जानकारी

भारतीय रेल विश्व के सबसे बड़े Railway Network में से एक है। Track की लंबाई के हिसाब से भारतीय रेल विश्व की चौथी सबसे बड़ी Railway Network है। भारत में Track की कुल लंबाई लगभग 67,368 किलोमीटर है। भारत सरकार की स्वामित्व वाली भारतीय रेल की स्थापना 8 मई 1845 में ही हो गयी थी। तब भारत में इसकी शुरुआत अंग्रेज़ो के द्वारा की गई थी।

अंग्रेज़ो द्वारा भारत में रेलवे शूरु करने का मुख्य उद्देश्य व्यापार को बढ़ाना था। भारत में पहली Train 16 अप्रैल 1853 को मुंबई से ठाणे के बीच चली थी। इस लिहाज़ से भारत में Railway System 173 साल पुराना हो चुका है। हालांकि भारत में Railway का राष्ट्रीयकरण 1951 में हुआ था।

इतनी बड़ी संख्या में ये Trains 7,349 Stations के बीच सफर तय करती है। भारतीय रेल एक दिन में लगभग इतनी संख्या में यात्रियों को ढोता है जितना कि ऑस्ट्रेलिया समेत कई अन्य देश की कुल आबादी है। भारतीय रेल लगभग प्रत्येक दिन 23 Million ( 1 Million = 10 Lack ) लोगों को ढोता है। मालगाड़ी की बात करें तो भारत में लगभग एक दिन में 3 Million Tonnes सामान मालगाड़ी के द्वारा ढोया जाता है। भारतीय रेल विभाग विश्व में दूसरी ऐसी विभाग है जो कि इतने बड़े System को अकेले ही संभालती है। भारतीय रेल रोज़गार देने के मामले में भी देश का सबसे बड़ा और विश्व का 9वां सबसे बड़ा विभाग है। इसमें 13 लाख से अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं।

भारत में चलने वाले Train के प्रकार

भारत में सवारी की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए अलग अलग तरह की ट्रेनें चलाई जाती है।

  • Passenger Train

Passenger Train का मुख्य काम सवारी को एक शहर से दूसरे शहर तक ढोना हैं। इसके अंतर्गत भी कई प्रकार के Trains चलाए जाते हैं। इसमें मुख्य रूप से Local Train, Express Train, Inter City Train, Inter State Trains, Supar Fast Trains इत्यादि शामिल है।

भारत में कई राज्य हैं और राज्य में कई ज़िले हैं। Local Train मुख्यतः एक ज़िले से दूसरे ज़िले के बीच ही चलाई जाती है। Local Train के लिए Ticket पहले से लेने की ज़रूरत नही होती। बल्कि आप अपने सफर से कुछ मिनट पहले तक हासिल कर सकते हैं। मुंबई, कोलकाता जैसे बड़े शहरों में Local Train ही सवारी का प्रमुख साधन है और प्रत्येक दिन लाखो लोग इससे सफर करते है।

भारतीय रेल पूरे System पर होने वाले खर्च की अपेक्षा अपने सवारियों से काफी कम पैसे लेती है। कमाई के लिहाज से भारतीय रेल के कमाई का सबसे बड़ा श्रोत सामान की ढुलाई से होने वाली कमाई है।

Leave a Reply