बिहार का जनसंख्या के आधार पर सबसे बड़ा शहर कौन सा है ?

बिहार का population के आधार पर सबसे बड़ा शहर पटना है। यही नहीं बिहार का क्षेत्रफल (AREA) के आधार पर सबसे बड़ा शहर भी पटना ही है। पटना बिहार प्रदेश की राजधानी भी है।  पटना पूर्वी भारत में कोलकाता के बाद दूसरा सबसे बड़ा शहर है। पटना का प्राचीन नाम पाटलिपुत्र है, इतिहास के विषय में हम आगे  पढ़ेंगे।

2011 की जनगणना के अनुसार पटना शहर की जनसंख्या 16,95,000 थी। जैसा कि हम पहले ही बता चुके हैं कि पटना  जनसंख्या के साथ ही साथ क्षेत्रफल के आधार पर भी बिहार का सबसे बड़ा शहर है। पटना शहर का क्षेत्रफल 136 वर्ग किलोमीटर है।

bihar ka jansankhya me sabse bada shahar

इतिहास के परिदृश्य में पटना

वर्तमान में और कहा जाए तो पिछले 400 सालों से भारत की राजनीतिक राजधानी दिल्ली रही है परंतु उसके पूर्व भारत की राजनीति का केंद्र पाटलिपुत्र अर्थात वर्तमान का पटना हुआ करता था। इतिहासकारों के अनुसार पटना शहर 2000 सालों से भी ज्यादा पुराना है। कई इतिहासकारों का यह भी मानना है कि पटना शहर की स्थापना अजातशत्रु ने की थी।

पटना शहर इतिहास में कितना महत्वपूर्ण है इसका अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं कि ZERO  अर्थात 0  की खोज  आर्यभट्ट ने  यहीं पर की थी। ZERO  भारत के लिए ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया के लिए गणित के विषय में क्रांतिकारी  खोज  थी। यही नहीं यह शहर चाणक्य, वात्सायन एवं कालिदास जैसे महापुरुषों का जन्म स्थान है।

जहां तक सिख धर्म की बात है तो सिख धर्म के दसवें गुरु गुरु गोविंद सिंह का जन्म स्थान भी पटना ही है। पुरातत्व वेदों के अनुसार पटना शहर का इतिहास लगभग 2600 साल पहले तक जाता है।

पटना शहर के नाम में कई बार परिवर्तन हुए कभी इसका नाम पटाली ग्राम था, कभी  कुसुमपुर था, कभी पाटलिपुत्र था तो कभी  अजीमाबाद था। आज इसका नाम पटना है। यह महान चंद्रगुप्त की राजधानी थी। यह अशोक की भी राजधानी थी।

परंतु भारत में इस्लामी ताकतों के आक्रमण के बाद भारत का राजनीतिक केंद्र पटना से उठकर दिल्ली चला गया। आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि पटना को एक बार फिर से भारतीय राजनीति का केंद्र बनाने का वैभव एक मुसलमान शेर शाह सुरी ने दिलाया।

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में भी पटना शहर ने अग्रणी भूमिका अदा की। यहां का गांधी मैदान भारत की राजनीति को बदलने वाले समय की पहचान रहा है। आज भी भारत के राजनीतिक परिदृश्य में बिहार एक बहुत महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है और बिहार की राजनीति का केंद्र पटना है।

पर्यटन की दृष्टि से पटना

भारतीय इतिहास एवं संस्कृति में रुचि रखने वाले पर्यटकों के नक्शे पर पटना शहर बहुत ऊंचा स्थान रखता है। अगर आपको पटना का प्राचीन वैभव देखना है तो कुमारहार जरूर  जाना चाहिए। जब इतिहास की बात कर रहे हैं तो गोलघर भी हो कर आइएगा।

इतिहास के अलावा भी पटना के पास आप को दिखाने के लिए बहुत कुछ है जैसे कि पटना म्यूजियम (Museum), अगम कुआं , जालान म्यूजियम (Museum ) , श्रीकृष्ण साइंस सेंटर पटना प्लैनेटेरियम आदि।

हमें पूरी उम्मीद है कि अब आपको इस सवाल का जवाब मिल गया होगा कि , बिहार का सबसे बड़ा शहर कौन सा है जनसंख्या (Population ) के आधार पर ? इसी के साथ आपको इस सवाल का जवाब भी मिल गया होगा कि बिहार का क्षेत्रफल (AREA) के आधार पर सबसे बड़ा शहर कौन सा है ?

Leave a Reply