कंप्यूटर का अविष्कार किसने किया था। Computer ka avishkar kisne kiya

Computer ka aviskar kisne kiya इसके बारे में हमे पता होना चाहिए क्योंकि कंप्यूटर विज्ञान एक बहुत बड़ा अविष्कार है। यह हमारे जीवन का एक अभिन्न अंग बन चुके है। जीवन के प्रत्येक क्षेत्र कला ,विज्ञान, शिक्षा, राजनीति, आदि में इसका उपयोग हो रहा है।

Computer शब्द की उत्पत्ति लैटिन भाषा के compute शब्द से हुई है जिसका अर्थ “गणना करना” होता है । आज हम इस पोस्ट में बात करेंगे कंप्यूटर के आविष्कार की । इसका अविष्कार किसने किया तथा इसका विकास कैसे हुआ।
कंप्यूटर का अविष्कारक “चार्ल्स बैबेज” को माना जाता है। यह एक ब्रिटिश गणितज्ञ थे तथा इन्हें कंप्यूटर का जनक या पिता भी कहा जाता है। इन्होंने ही 1822 में पहला यांत्रिक कंप्यूटर बनाया था।

computer ka aviskar kisne kiya tha

चार्ल्स बैबेज का जन्म 26 दिसंबर 1791 में तथा मृत्यु 18 अक्टूबर 1871 में हुई थी। इन्होंने ही सबसे पहले programmable कंप्यूटर का डिज़ाइन तैयार किया था। चार्ल्स बैबेज ने डिफरेंशियल इंजन नामक मैकेनिकल कंप्यूटर की खोज की थी लेकिन धन की कमी के कारण वह इसे पूरा न कर सके। सन 1930 में John Vincent Atanasoff ने पहला डिजिटल कंप्यूटर बनाया जिसमे vacuum tube का इस्तेमाल किया गया। Pier Giorgio Perotto ने सन 1964 में पहला डेस्कटॉप कंप्यूटर बनाया। उसके बाद सन 1975 में Ed Roberts ने personal computer बनाया। इस दौरान कंप्यूटर के ढांचे में बहुत बदलाव आए। कंप्यूटर के विकास को 5 पीढ़ियों में बांटा जा सकताहै। पहली पीढ़ी 1940 से 1956 तक रही । इस दौरान कंप्यूटर्स में वैक्यूम ट्यूब का इस्तेमाल होता था।

दूसरी पीढ़ी (Second Generation) 1956 से 1963 तक रही । इस पीढ़ी में वैक्यूम ट्यूब्स के स्थान पर ट्रांजिस्टर का उपयोग शुरू हुआ। तीसरी पीढ़ी 1964 से 1971 तक रही। माइक्रोप्रोसेसर के साथ ही चौथी पीढ़ी अस्तित्व में आई जो कि 1971 से अब तक है। पांचवी पीढ़ी वर्तमान और भविष्य है । जिसमें अभी भी विकास हो रहा है।

Read also :-

Leave a Reply