इंग्लैंड की जनसंख्या कितनी है 2020

यूनाइटेड किंगडम के देश इंग्लैंड की Population वर्तमान समय में 5.59 करोड़ है। इंग्लैंड में आधिकारिक रूप से अंतिम बार जनगणना 2011 में की गई थी। तब यहां की कुल आबादी 5 करोड़ 30 लाख दर्ज की गई थी। उसके बाद से यहां की आबादी में वृद्धि दर्ज की गई है। इस कारण 2020 तक इंग्लैंड की अनुमानित आबादी 5 करोड़ 60 लाख तक जा पहुंची है।

इंग्लैंड का कुल क्षेत्रफल 130,279 वर्ग किलोमीटर है।  क्षेत्रफल की तुलना में जनसंख्या को देखें तो इंग्लैंड में जनसंख्या घनत्व 424.3 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है।

2011 में हुई आधिकारिक जनगणना के अनुसार इंग्लैंड की कुल आबादी में 85.54 प्रतिशत भागीदारी White लोगों की थे। इसके बाद यहां 7.8 प्रतिशत लोग एशियाई मूल के हैं। जबकि, 3.5% लोग नीग्रो यानी Black हैं। इसके अलावा 2.3 प्रतिशत लोग Mixed ethnic groups के रहने वाले हैं। इसके अलावा इंग्लैंड में 0.4 प्रतिशत लोग अरब तथा 0.6% लोग अन्य Ethnic groups से संबंधित है।

इंग्लैंड में हुई 2011 की जनगणना के अनुसार यहां रहने वाली कुल आबादी में 59.4 प्रतिशत लोग क्रिश्चियनिटी को मानने वाले हैं। वहीं, 24.7% लोग ऐसे हैं जो कि किसी भी धर्म को नहीं मानते हैं। जबकि 7.2 प्रतिशत लोगों ने अपने धर्म के बारे में खुलासा नहीं किया था। वहीं, इंग्लैंड में 5 प्रतिशत लोग Islam धर्म के मानने वाले हैं। इसके अलावा 2.2% लोग अन्य धर्मों को मानते हैं। जबकि हिंदू धर्म के मानने वालों की संख्या भी यहां 1.5% है। इंग्लैंड में अधिकतर हिंदू वह हैं  जो कि भारत से जाकर वहां निवास  करने लगे  हैं। उन्होंने वहां की नागरिकता हासिल की है।

इंग्लैंड में दुनिया के कई देशों से संबंधित लोग रहते हैं। इस कारण यहां की बोली जाने वाली भाषाओं में भी काफी विविधता देखने को मिलती है। आंकड़ों के अनुसार 50 हज़ार या इससे अधिक लोगों द्वारा बोली जाने वाली भाषाओं की संख्या 20 से अधिक है। आंकड़ो में देखे तो इंग्लैंड की कुल आबादी में 93.02% लोग English भाषा का ही उपयोग करते हैं।

इंग्लैंड में 0.5 प्रतिशत लोग पंजाबी भाषा का उपयोग करते हैं। यानी कि इंग्लैंड की तीसरी सबसे बड़ी भाषा पंजाबी है। जबकि इसी तरह 5 प्रतिशत लोग उर्दू भाषा का भी उपयोग करते हैं। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि पंजाबी, उर्दू के अलावा इंग्लैंड में गुजराती, तमिल और बंगाली भाषा का भी उपयोग किया जाता है। इन भाषाओं का उपयोग ज्यादातर भारत से गए लोग ही करते हैं। वहीं, जो भी मूल रूप से इंग्लैंड के नागरिक हैं वह केवल अंग्रेजी भाषा का ही उपयोग करते हैं।

Leave a Reply