Flipkart किस देश की कंपनी है एवं उसके मालिक कौन है ?

21वी सदी में लोग हमेशा ही अपने पैसों से ज्यादा तव्वजो अपनी सुविधाओं को देते है। फिर बात चाहे Medical Facility की हो या खरीददारी करने की। लोगों को अपने घर में बैठे ही सब सुविधाएं का आनंद चाहिये होता हैं। जनता को इन्हीं जरूरतों को पूरा करने के लिये हर एक व्यवसायी इस पहलू पर विशेष ध्यान देता है। इसका सबसे अच्छा उदाहरण Online Shopping कंपनी फिल्पकार्ट (Flipcart) है। लोगों की तमाम जरूरतों को पूरा करने के लिये यह एक बेहतरीन Platform है। जिसके माध्यम से आप अपने घर बैठे, अपनी पसंद या जरूरत के समान को आसानी से प्राप्त कर सकते है। इस Article में हम इसी के बारे में विस्तार से जानेगे।

flipkart kiski company hai

किस देश की है Filpcart कंपनी है

यह एक भारतीय इंटरनेट वाणिज्यिक कंपनी (Indian e-Commerce Company) है। आपको यह पढ़कर आश्चर्य हो सकता है, क्योंकि आमजन के बीच यह धारणा है, कि यह एक विदेशी Company है। यह एक निजी (Private) प्रवृत्ति वाली Online Shopping कंपनी है, जो पूरे भारत मे अपनी सेवाएं प्रदान करती हैं। इसकी स्थापना October 2007 में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (Indian Institute of Technology – IIT) दिल्ली, के दो भूतपूर्व छात्र सचिन बंसल (Sachin Bansal) एवं बिन्नी बंसल (Binny Bansal) ने मिलकर की थी। यह दोनों इसके पहले अमेरिकी ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी अमेज़ॉन (Amazon) के लिए भी कार्य कर चुके थे। इसका मुख्यालय कर्नाटक के बैंगलोर (Bangalore) में स्थित है। इस संगठन से 30,000 से भी ज्यादा कर्मचारी जुड़े हुये है, जबकि 2019 की आंकड़ो की माने तो, इसका कुल राजस्व (Revenue) उस समय ₹ 43,615 करोड़ का था। वर्तमान समय मे Kalyan Krishnamurthy इसके CEO है।

इस कंपनी ने अपनी शुरुआत 2007 में, देशभर में Books बेचने से की थी, जिसने रफ्तार 2008 के आते-आते पकड़ी, जब उनको 100 किताबों के Order प्रतिदिन मिलने लगे। जिसके चलते 2010 में इस कंपनी ने Lulu.com से weRead नामक एक बुक सर्विस प्राप्त कर ली। अपने कार्यक्षेत्र को पहले से अधिक विस्तृत करने के लिए फ्लिपकार्ट ने 2011 में Mime360.com को अपने साथ जोड़ा, जिसके परिणामस्वरूप उसने Digital Distribution का काम भी प्रारंभ कर दिया। बाज़ार में Electronic सामानों के बढ़ते प्रभाव ने इसको एलेक्ट्रॉनिक की तरफ आकर्षित किया। वर्ष 2012 तक इसने “Letsbuy” को ख़रीदकर इस क्षेत्र में भी कदम रख लिया। इसको बड़ी सफलता 2014 में मिली, जब इसने ₹ 20 Billion में Myntra जो कि एक Online Fashion Retailer है, उसको अपने साथ जोड़ लिया। जिससे इसकी आय में प्रभावी बढ़ोत्तरी देखी गई। इसके बाद इसने Smartphone की दुनिया मे प्रवेश किया। जहाँ इसने Motorola, Redmi एवं Xiaomi जैसे बड़े ब्रांडों को अपने साथ जोड़ा।

फ्लिपकार्ट का सबसे बड़ा Compitition, अमेज़ॉन के साथ ही होता है, जबकि एक अन्य भारतीय कंपनी स्नेपडील (Snapdeal) इसको घरेलू स्तर पर टक्कर देती है। 2017 में Flipcart ने इसको US$ 700–800 Million में खरीदना चाहा, लेकिन Snapdeal ने इस प्रस्ताव से इंकार कर दिया। इसके अलावा इस कंपनी ने अपने ग्राहकों को Online Payment की सुविधा दिलाने के लिये PhonePe जैसे Digital Payment Application को 2016 में ही खरीद लिया था। March 2017 के Data के अनुसार इसके पास भारत के E – Commerce Industry का 39.5% बाजार अंश (Market Share) था।

फ्लिपकार्ट के मालिक :-

इस कंपनी का मालिकाना हक Share के रूप में बांटा हुआ है। जिसमें सबसे बड़ी हिस्सेदार Walmart Company है। जो कुल 100 फीसदी में से कुल 77 फीसदी Share की मालिक है। इस कंपनी का पूरा नाम Walmart Inc है, जो एक अमेरिकी बहुराष्ट्रीय निगम (American Multinational Corporation) है। यह लगभग 27 देशों में करीबन 11,484 Stores के साथ सुपरमार्केट, Department Stores एवं Grocery Stores के व्यवसाय को संचालित करती है।

Leave a Reply