गूगल के संस्थापक एवं CEO कौन है ?

आज हम सभी ऐसे युग मे अपना जीवन व्यतीत कर रहे है, जहाँ किसी भी जानकारी के लिए हम तकनीकी (Technical) एवं इंटरनेट (Internet) पर आश्रित है। छोटी से छोटी जानकारी के लिए हम तुरंत इंटरनेट का उपयोग करके गूगल (Google) पर सारी जानकारी खोजने लगते है। गूगल के पास लगभग लगभग आपके प्रत्येक सवाल का जबाब होता है। यह एक ऐसा ज्ञान का भंडार (Storage) है, जो दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। इसका विस्तृत प्रयोग मुख्यता विद्यार्थी वर्ग करता है, फिर चाहे वह प्रॉजेक्ट (Project) बनाने के लिए जानकारी जुटाना हो या किसी परीक्षा की तैयारी करनी हो। इस Article में हम गूगल के ही बारे में जानेंगे। इसकी स्थापना/ संस्थापक एवं इसके CEO के बारे में भी चर्चा करेंगे।

google ke sansthapak ka naam

गूगल के संस्थापक कौन है

गूगल के स्थापित करने का श्रेय लैरी पेज (Larry Page) एवं सेर्गे ब्रिन (Sergey Brin) को जाता है। 4 September 1998 में इन दोनों ने मिलकर इसकी स्थापना की थी। जिस समय इन्होंने इस कंपनी (Company) को स्थापित किया था, उस दौरान वह दोनो कैलिफोर्निया के Stanford University में छात्र थे। गूगल का उद्भव उनके पीएचडी के रिसर्च प्रोजेक्ट के जरिये ही हुआ है। वास्तव में Google एक गणितीय शब्द “Googol” के गलत लिखने से बना है। Googol का शब्दिक अर्थ ” 1 के पीछे 100 जीरो होता है। यह अमेरिका की एक बहुराष्ट्रीय प्रौधौगिकी कंपनी (Multinational Technology Company) है। इसका मुख्यालय California के Mountain View में है। यह अपनी सेवाएं समस्त संसार में पहुँचाता है। 2019 के सितम्बर तक इस कंपनी से लगभग 1,14,000 कर्मचारी जुड़े थे।

Alphabet Inc. गूगल की पैतृक कंपनी (Parent Company) है। 2015 में गूगल ने कई सारे बदलाव किए थे, जिसके परिणामस्वरूप एल्फ़ाबेट (Alphabet) को इसकी मूल कंपनी के रूप में स्थापित किया गया। अगर बाजार पूँजी (Market Capital) के अनुसार देखा जाये तो अल्फाबेट 893 अरब US डॉलर के साथ दुनिया की तीसरी बड़ी कंपनी है। इससे आगे सिर्फ एप्पल (Apple) एवं माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) जैसी विशालकाय कंपनियां है। गूगल का केवल एक सर्च इंजन नही है। इसके अलावा यूट्यूब (Youtube), गूगल मैप्स, गूगल क्रोम (Google Chrome), गूगल ड्राइव, गूगल असिस्टेंट, गूगल पे (Google Pay), गूगल ट्रांसलेट, गूगल प्ले एवं गूगल पिक्सल स्मार्टफोन जैसे व्यापार भी यही संभालता है।

गूगल के CEO

वर्तमान समय में गूगल के CEO भारतीय मूल के सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) है। सुंदर पिचाई ना केवल गूगल के CEO हो, बल्कि इसकी मूल कंपनी अल्फाबेट के भी CEO है। इनका जन्म 10 जून 1972 को तमिलनाडु के मदुरई (Madurai) में हुआ था। उनका पूरा नाम सुंदरराजन (Sundararajan) पिचाई है। उन्होंने अपनी BTech Indian Institute of Technology (IIT) Kharagpur से पूरी करी। इसके बाद उन्हें आगे की पढ़ाई के लिए स्कॉलरशिप (Scholarship)मिल गई, जिसके चलते उन्होंने स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से अपनी Master of Science (MS) की डिग्री प्राप्त की। MS करने के बाद उन्होंने University of Pennsylvania से MBA किया।

इसके बाद उन्होंने 2004 में गूगल कंपनी में बतौर प्रबंधन कार्यकारी अधिकारी (Management Executive) के पद में प्रवेश लिया। इसके उपरांत 2015 में गूगल ने इनको CEO के पद से नवाजा। लेकिन उनकी जिंदगी का सबसे बड़ा क्षण दिसंबर 2019 में आया, जब लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन ने अपनी पारिवारिक जिम्मेदारियों (Familial Responsibility) का हवाला देते हुये, सुंदर पिचाई को अल्फाबेट का CEO नियुक्ति किया। यह पद कितना विशाल है, इसका अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है, कि उनको अपने कार्य के लिए प्रति घंटे लगभग 1करोड़ 60 लाख का वेतन (Salary) मिलता है।

Leave a Reply