झारखंड में कितने थाने है। Jharkhand me thane

606 थाने

झारखंड राज्य का गठन 15 नवंबर 2000 को हुआ था। इसे बिहार से अलग करते हुए नए राज्य के रूप में बसाया गया था। चूंकि यह एक बिल्कुल नए सिरे से बना राज्य था। इस कारण पहले से मौजूद अधिक्तर संस्थाएं बिहार के पास ही रह गयी। इसी में पुलिस विभाग भी था। इस कारण झारखंड राज्य की स्थापना के बाद साल 2000 में ही झारखंड पुलिस विभाग की स्थापना की गई। समय के साथ पुलिस विभाग में विस्तार किया जाता रहा।

वर्तमान समय में झारखंड में कुल 606 थाने हैं। झारखंड के ये सभी थाने राज्य के विभिन्न 24 ज़िलों के अन्तर्गत ही आते हैं। अन्य राज्यों की तरह ही यहां भी विभिन्न स्तर के पुलिस अधिकारियों की नियुक्ति होती है। राज्य के पुलिस विभाग में 149 पद IPS रैंक के  अधिकारियों के है। हालांकि इनमे से लगभग 100 पदों पर ही अधिकारियों की नियुक्ति आमतौर से होती है।

jharkhand me kitne thane hai

झारखंड के थानों को विभिन्न आधार पर बांटा गया है। जैसे कि कुछ थाने शहरी क्षेत्र के तहत हैं, तो कुछ थाने ग्रामीण क्षेत्र में है। इस तरह देखें तो शहरी ए ग्रेड के तहत झारखंड के 25 थाने हैं। इसी तरह शहरी बी ग्रेड में 86, नक्सल प्रभावित ए ग्रेड में 155, नक्सल प्रभावित बी ग्रेड में 127, ग्रामीण थाना 38, शहरी ओपी थाना 17, ग्रामीण ओपी थाना 72, यातायात थाना 13, महिला एवं बाल संरक्षण थाना 41, ST – SC थाना 24 तथा AST यूनिट थानों की संख्या 8 है। इस तरह इन सभी थानों को मिला कर कुल 606 थाने हैं।

झारखंड एक ऐसा राज्य है जहां नक्सलियों की मौजूदगी हमेशा रही है। इस कारण यहां के थानों में बड़ी संख्या में ऐसे थाने हैं जो कि नक्सल प्रभावित थानों की श्रेणी में आते हैं। झारखंड में लगभग 280 थाना नक्सल प्रभावित श्रेणी के है। राज्य के गठन से पहले तथा उसके बाद तक पुलिस पर नक्सली हमला आम था। लेकिन पिछले कुछ वर्षों में पुलिस पर नक्सलियों के हमले में काफी कमी आई है।

Leave a Reply