लखीमपुर खीरी जिले में कितने गांव है।

दुनिया के दूसरे सबसे बड़े जनसंख्या वाले देश की अधिकांश जनसंख्या वर्तमान समय मे भी ग्रामीण अंचलों में निवास करती है। ग्रामीण क्षेत्रों में लोगो के समुदाय तथा जनसंख्या के आधार पर भी गाँव छोटे बड़े आकार के होते है। कई गाँव मिलकर एक तहसील बनाते और कई तहसीलो से मिलकर एक जिले का निर्माण होता। इसी प्रक्रिया को आगे बढ़ा कर जिलों से  राज्य एवं राज्यो से देश बनाया जाता। इस प्रकार गाँव देश के गठन की सबसे छोटी इकाई होती परंतु इसका महत्व सबसे ज्यादा होता। आज के इस article मे हम देश के ऐसे ही जिले के गांवों के बारे में जानेंगे, जो देश का नज़रिये से बेहद महत्वपूर्ण है। हम बात लखीमपुर खीरी जिले के गांवों के बारे में करेगें।

lakhimpur me kitne jile hai

लखीमपुर खीरी जिले के गाँव

आंकड़ों के हिसाब से लखीमपुर खीरी जिले में कुल 1766 गाँव है। उत्तर प्रदेश के उत्तरी भाग मे स्थित इस जिले की सीमा नेपाल देश से जुड़ी है। इस जिले में कुल 6 तहसीले तथा 15 विकासखंड है। आंकड़ो को एक बेहतर तरीके से जमाकर देखा जाये तो तो इस जिले के सारे गाँवो की संख्या तहसीलवार देखते है।

गाँवो की तहसीलवार संख्या

जैसे कि आप जानते है कि इस लखीमपुर खीरी जिले में कुल 6 तहसील है, जिनमे 1766 गांव बंटे हुये है , जिनका विवरण निम्न है-तहसील  –

गांवों की संख्या

  1. मोहम्मदी – 520
  2. लखीमपुर – 472
  3. गोल गोकरण नाथ – 292
  4. धौरहरा – 209
  5. पलिया – 155
  6. निघासन – 118

इस प्रकार लखीमपुर खीरी जिले के मोहम्मदी तहसील मे सबसे ज्यादा गांवों है। जबकि निघासन तहसील इस मामले में अंतिम स्थान पर है। लखीमपुर खीरी को पहले “खीरी” के नाम से जाना जाता था। लेकिन इसमे लखीमपुर के मिल जाने से इसको वर्तमान में लखीमपुर खीरी के नाम से ही जाना जाता है। यह स्थान उत्तर प्रदेश के लखनऊ मंडल के अंर्तगत आता है। यह जिला उत्तर प्रदेश के कुल 7,680 वर्ग किलोमीटर मे फैला हुआ है। जबकि अंतिम बार हुई जनगणना के हिसाब से इसकी आबादी 40,21,243 दर्ज की गई थी। वर्तमान में इस जिले के विधायक उत्कर्ष वर्मा मधुर है। इस जिले के गांवों की अहमियत का अंदाजा इन बात से लगाया जा सकता है, कि यह पूरे उत्तर प्रदेश के गाँवो का कुल 1.73% है। इस जिले में वर्तमान समय मे गाँवो के विकास जोरो पर है, जिसकी अगुवाई इस राज्य के वर्तमान  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कर रहे है।

Leave a Reply