लाल किला किसने बनवाया था। Lal Kila Kisne Banwaya

लाल किला राजनैतिक रूप से India का सबसे महत्वपूर्ण  Historical Monument है। यह दिल्ली का सबसे ज्यादा मशहूर Tourist Attraction है। लाल किला ही वो जगह है जहां पहली बार 1947 में भारत की स्वतन्त्रता मनाई गयी थी। तब से लेकर आज तक हर साल 15 अगस्त को INDIA के Prime Minister लाल किले पर झण्डा फहराकर आजादी के प्रतीक के रूप में इस पर्व को मनाते हैं।

lal kila kisne banaya tha

लाल किला कब और किसने बनाया

लाल किले का निर्माण पाचवें मुग़ल सम्राट शाहजहां ने 17वीं शताब्दी (1639-1648) में कराया था। शाहजहां ने अपनी राजधानी आगरा से बदलकर शाहजहानाबाद बना ली थी। उसी शाहजहानाबाद (पुरानी दिल्ली ) के किले के रूप में लाल किले का निर्माण कराया गया था। लाल किला शाहजहाँ के शासन काल से ही सत्ता और शक्ति का प्रतीक रहा है। इस किले का निर्माण उस्ताद अहमद लाहौरी के निरीक्षण में किया गया था।

2007 में लाल किले को  UNESCO World Heritage site का दर्जा मिला है। इस स्मारक को लाल रंग की बलुआ पत्थर से बनाया गया है जिससे इसका नाम लाल क़िला पड़ा। लाल किला 1857 तक मुग़ल सम्राटों का निवास स्थान रहा जिसके बाद अंग्रेजों ने इसपर अधिकार कर लिया था।

लाल किले को मुगल स्थापत्य कला और रचनात्मकता का शिखर माना जाता है। लाल किले के महल की योजना इस्लामी प्रोटोटाइप पर आधारित है जिसमें इस्लामी, फारसी, तिमुरीद और हिंदू स्थापत्य कला की परंपराओं का भव्य सम्मिश्रण देखने को मिलता है। लाल किले की खूबसूरत वास्तुकला शैली (architectural style) ने हिंदुस्तान में बनने वाले Gardens और इमारतों को बहुत प्रभावित किया है।

लाल किले की ख़ासियतें-

इस किले की विशाल लाल पत्थर की दीवारें, 75 फीट (23 मीटर) ऊंची हैं जो अपने आप में नहरों , महलों और मनोरंजन हॉलों, बाल्कनियों, और बागानों के साथ-साथ मस्जिद जैसे कई इमारतों को समेटे हुए हैं। लेकिन इस किले की सबसे महत्वपूर्ण खासियत दीवान-ए-खास और दीवान-ए-आम हैं जो कि सम्राट द्वारा खास लोगों और आम जनता से मिलने के लिए इस्तेमाल किया जाता था। इसके अलावा मुमताज़ महल और रंग महल भी इस किले की खासियते हैं। 254 एकड़ में फैला ये किला Octagonal (अष्टभुजाकार) आकार में है। विश्व प्रसिद्ध कोहिनूर हीरा इसी किले की शान हुआ करता था।

Red Fort facts:

  • Location-नेताजी सुभाष रोड, चाँदनी चौक, दिल्ली
  • Entry Fee– Rs. 10 (Indians, SAARC and BIMSTEC citizens), Rs. 250 (foreigners)
  • Visiting Time– 7:00 AM to 5:30 PM मंगलवार-रविवार (Monday Closed)
  • Metro Station-Chandani Chowk

Leave a Reply