लाल रक्त कण मानव शरीर में किस अंग में बनता है।

मानव शरीर में लाल रक्त कोशिका बोन मेरो अथवा अस्थिमज्जा में बनते हैं। अब तो आपको सवाल का जवाब मिल गया होगा कि ,लाल रक्त कोशिका मानव शरीर के किस अंग में बनता है? तो चलिए लाल रक्त कोशिकाों के बारे में कुछ और रोचक जानकारियों से आपको अवगत कराते हैं।

लाल रक्त कोशिका : लाल रक्त कोशिका को एरीथ्रोसाइट भी कहते हैं । लाल रक्त कोशिका आपके शरीर के प्रत्येक अंग को ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करते हैं। लाल रक्त कोशिका में एक विशेष तरह का प्रोटीन पाया जाता है जिसे हीमोग्लोबिन कहते हैं, यही हीमोग्लोबिन आपके फेफड़ों से ऑक्सीजन लेकर आपके प्रत्येक अंग तक पहुंचाता है।

lal rakt kanikaye human body kaha banta hai

लाल रक्त कोशिका आपके शरीर के लिए अत्यंत आवश्यक होते हैं इनकी कमी से आपको  एनीमिया, डिहाइड्रेशन, कुपोषण और लुकीमिया जैसी बीमारियां हो सकती हैं। लाल रक्त कोशिका को RBC भी कहते हैं ।

इन कोशिकाों की संख्या पता करने के लिए जो टेस्ट  किया जाता है उसे CBC या कंप्लीट ब्लड सेल टेस्ट कहते हैं। कई खाद्य पदार्थों में कोलेस्ट्रॉल पाया जाता है, कोलेस्ट्रॉल आपके लाल रक्त कोशिकाों में जाकर हीमोग्लोबिन के साथ मिल जाता है और उसे  गाढ़ा कर देता है इसके साथ ही आपके रक्त के प्रवाह में दिक्कत आने लगती है, और इसका सबसे खतरनाक रूप तब सामने आता है जब  कोलेस्ट्रॉल की वजह से दिल का दौरा पड़ता है। इसीलिए हिमोग्लोबिन को तरल रखना आवश्यक है जिसके  लिए डॉक्टर कोलेस्ट्रॉल में कमी की सलाह देते हैं।

लाल रक्त कोशिकाों के अलावा  शरीर में श्वेत रक्त कोशिका और प्लेटलेट्स पाई जाती हैं। शरीर में पाए जाने वाले खून का लगभग 45% हिस्सा यही तीनों होते हैं, इनके अलावा बचा हुआ 55% हिस्सा प्लाज्मा का होता है जो कि एक तरह का तरल खून होता है। आप पहले ही पढ़ चुके हैं कि लाल रक्त कोशिका आपके शरीर के प्रत्येक अंग को ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करते हैं और  श्वेत रक्त कोशिका आपके शरीर को बीमारियों से बचाने का काम करते हैं।

लाल रक्त कोशिका का जीवन 100 से 120 दिनों तक का होता है, इसके बाद शरीर अपने आप ही इन्हें  अलग कर बोन मैरो की सहायता से नए लाल रक्त कोशिका का निर्माण करता है| शरीर में हर समय लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण होता रहता है। लाल रक्त  कोशिका की कमी से होने वाली बीमारी को एनीमिया कहते हैं।

Leave a Reply