मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा गांव कौन सा है।

मध्यप्रदेश में 50 हज़ार से भी अधिक संख्या में गांव है।  राज्य की 7 करोड़ से अधिक की आबादी में से 5 करोड़ से ज़्यादा की आबादी गांव में ही रहती हैं। मध्यप्रदेश के सभी गांव आबादी के लिहाज से एक दूसरे से भिन्न हैं। इस आधार पर देखें तो मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा गांव लालारिया गांव है। Lalariya गांव मध्य प्रदेश के Berasia Tehsil के अंतर्गत आता है। बैरसिया तहसील मध्यप्रदेश के भोपाल ज़िले में है।

Lalariya गांव को मध्य प्रदेश के सबसे बड़े गांव के रूप में पहचान 2011 की जनगणना के बाद ही मिली थी। 2011 की जनगणना के अनुसार इस गांव में 1792 परिवार रहते थे। लालारिया गांव में रह रहे सभी परिवारों के सदस्यों को मिला कर यहां की कुल आबादी 6385 थी। इसमें पुरुषों की संख्या 3340 महिलाओं की संख्या 3045 थी। Lalariya गांव की कुल आबादी में 0 से 6 वर्ष तक के बच्चों की संख्या इस गांव की कुल आबादी का 18.70 प्रतिशत था। यानी इस गांव में 0 से 6 वर्ष तक के बच्चों की संख्या 1194 थी।

madhya pradesh ka sabse bada gaon
  • मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा गांव – लालारिया

इतनी बड़ी आबादी के इस गांव में रहने के बावजूद यहां की साक्षरता दर मध्य प्रदेश की औसत साक्षरता दर से भी कम थी। 2011 के आंकड़ो के अनुसार मध्य प्रदेश की औसत साक्षरता दर 69.32 प्रतिशत रही थी। लेकिन Lalariya गांव में साक्षरता दर 61.61 प्रतिशत ही थी। इसके अलावा इस गांव का लिंगानुपात भी राष्ट्रीय एवं राजकीय लिंगानुपात से कम ही है। मध्यप्रदेश में लिंगानुपात एक हज़ार लड़कों पर 931 था। वहीं Lalariya गांव में यह आंकड़ा महज़ 912 ही है।

Read aslo :-

Leave a Reply