मध्य प्रदेश की भाषा क्या है यहाँ कौनसी सी भाषा बोली जाती है।

मध्यप्रदेश भारत का क्षेत्रफल के आधार पर दूसरा सबसे बड़ा राज्य है। बड़ा राज्य होने के कारण यहां पर एक से ज्यादा भाषाओं का उपयोग होता है। मध्यप्रदेश में हिंदी एवं हिंदी के कई version  जैसे कि निमाड़ी, बुंदेलखंडी एवं बघेलखंडी बोले जाते हैं। हिंदी के अलावा मध्यप्रदेश के कई क्षेत्रों में तेलुगु , मराठी , गोंडी, कोरकु , निहाली आदि भाषाएं बोली जाती हैं।

जहां तक आधिकारिक भाषा की बात है तो मध्य प्रदेश की आधिकारिक भाषा हिंदी है।  अब जब आपको इस सवाल का जवाब मिल गया कि ,मध्य प्रदेश की भाषा क्या है ? तो हिंदी के विषय में कुछ और भी जान लीजिए।

madhya pradesh ki bhasha

हिंदी

विशेषज्ञों के अनुसार हिंदी Indo Aryan  language है।  हिंदी भारत में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है। हिंदी भाषा के लिए देवनागरी लिपि का उपयोग किया जाता है। भारत में हिंदी के कई रूप देखने को मिलते हैं जैसे की ब्रजभाषा, खड़ी बोली, अवधी, मघई, बुंदेलखंडी, बघेली , मारवाड़ी, गढ़वाली, कन्नौजी , हरियाणवी आदि।

विशेषज्ञों के अनुसार लगभग पूरे देश के 95% लोग हिंदी समझने की क्षमता रखते हैं। भले ही वे  हिंदी को बोल एवं लिख ना पाते हो। हिंदी के विषय में तो जान लिया जाने से पहले मध्य प्रदेश के विषय में भी कुछ  जान लीजिए ।

मध्य प्रदेश

 मध्य प्रदेश क्षेत्रफल के आधार पर देश का दूसरा सबसे बड़ा राज्य है। क्या आपको पता है कि जब सेंट्रल प्रोविंस  बना था तो इस प्रदेश की राजधानी नागपुर थी ना कि भोपाल। 1956 में राज्य पुनर्गठन आयोग की Recommendations के पश्चात नया मध्य प्रदेश राज्य बना और उसकी राजधानी भोपाल थी।

जहां तक मानव सभ्यता की बात है मध्य प्रदेश भारत का सबसे महत्वपूर्ण राज्य है मध्य प्रदेश के भीमबेटका में भारत में सबसे पुरानी गुफाओं में  भित्ति चित्र पाए गए हैं। जो यह दर्शाते हैं कि मानव सभ्यता मध्यप्रदेश में  प्राचीन समय  से है। आज आपने हिंदी एवं  मध्य प्रदेश के विषय में जाना ऐसे ही आगे चलकर हमारे साथ बने रहे।

Leave a Reply