मध्यप्रदेश की जनसंख्या कितनी है 2020 में।

देश का “हृदय” कहलाने वाला राज्य मध्यप्रदेश, कई मायनों में देश की अर्थव्यवस्था एवं विकास के लिए महत्वपूर्ण है। देश की GDP में कृषि क्षेत्र से अहम योगदान देने वाले इस राज्य में पिछले कुछ सालों से विकास की गति तीव्र हुई है। गत वर्षों में क्या काफी कुछ परिवर्तन देखने को मिले है, जनसंख्या भी उन पहलूओं में से एक है। इस article मे हम मध्यप्रदेश राज्य की जनसंख्या बारे में जानेंगे।

madhya pradesh ki jansankhya kitni hai

मध्यप्रदेश की जनसंख्या कितनी है –

चूँकि अंतिम जनगणना 2011 में हुई थी, उस वक़्त इस राज्य की जनसंख्या 7,25,97,565 थी। परंतु जनगणना के 8 साल बाद सर्वे और आंकड़ो की माने तो वर्तमान में मध्यप्रदेश की जनसंख्या 8,45,16,795 है। चूँकि यह आंकड़े पूर्ण रूप से आंकी गई जनसंख्या के नही है, परन्तु अनुमानित जनसंख्या वर्तमान में इतनी ही है। अगर बात वर्ष 2018 की करे तो इस समय यह आंकड़े 8,29,41,943 थे।

इस आधार पर हम कह सकते है कि वर्तमान में सर्वे द्वारा लिये गये आंकड़ो मे सच्चाई व्याप्त है। मध्यप्रदेश का लिंग अनुपात (Sex ratio) देखा जाए तो हम पाते है कि यहाँ वह 930 है। अर्थात 1000 पुरुषो पर 930 महिलाये यहाँ पाई जाती है। इस राज्य की साक्षरता दर ( literacy rate)  में अभी काफी सुधार की गुंजाइश है। वर्तमान data के अनुसार यहां की यह दर 70.60% है।

विभिन्न आयामों से परिपूर्ण इस राज्य की जनसंख्या भारत देश के विकास में बेहद महत्वपूर्ण स्थान रखती है। जनसंख्या के हिसाब से मध्यप्रदेश देश का पांचवा सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला राज्य है, जबकि क्षेत्रफल से अनुसार राजस्थान के बाद दूसरे सबसे बड़े राज्य का दर्जा मध्यप्रदेश को ही मिल है। अगर इस राज्य की जनसंख्या वृद्धि दर देखे तो हम पाएंगे कि वह 24.34% है।

बृहद क्षेत्र में फैले इस राज्य का जनसंख्या घनत्व( Population Density) 196 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है। इंदौर इस राज्य का सबसे अधिक जनसंख्या वाला जिला है। जबकि इंदौर, भोपाल तथा जबलपुर की जनसंख्या को मिला के देखा जाये तो यह 1 मिलियन से अधिक है। मध्यप्रदेश राज्य में हिन्दू समुदाय का वर्चस्व ज्यादा है,

जबकि मुस्लिम सुमदाय यहां अल्पसंख्यक के रूप में स्थापित हो रहा है। गोंड़ जनजाति राज्य का एक मुख्य भाग घेरे हुए है। कृषि इस राज्य की आय का प्रमुख स्रोत है। 2019 के हाल में ही हुए चुनाव के बाद कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी कलमनाथ यहाँ के नवीन मुख्यमंत्री चुने गये है, जिन्होंने मामा के नाम से मशहूर शिवराज सिंह चौहान का स्थान लिया है।

Leave a Reply