मध्यप्रदेश की प्रथम महिला मुख्यमंत्री कौन थी।

मध्य प्रदेश की पहली महिला मुख्य मंत्री होने का गौरव उमा भारती जी को है। भारतीय जनता पार्टी की दिग्गज नेता उमा भारती ने 8 दिसम्बर 2003 को मध्य प्रदेश की पहली महिला मुख्य मंत्री के पद की शपथ ग्रहण की थी। उमा भारती ने मध्य प्रदेश में 2003 में हुए विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी को तीन चौथाई महुमत से जीत दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। हालांकि उमा भारती का मध्य प्रेदेश की मुख्य मंत्री के रूप में कार्यकाल थोड़े समय तक के लिए ही था। उनका कार्यकाल एक वर्ष से भी कम समय तक के लिए था। 8 दिसम्बर 2003 से लेकर 23 अगस्त 2004 तक उमा भारती मध्य प्रदेश की मुख्य मंत्री बनी रही।

Madhya p4adesh ki pahli mahila mukhyamntri

मध्यप्रदेश की पहली महिला मुख्य मंत्री के बारे में जानकारी –

उमा भारती ( CM of MP: 8 December 2003-23 August 2004) को 2003 में मध्य प्रदेश की पहली महिला मुख्य मंत्री के रूप में मध्य प्रदेश के तत्कालीन राज्यपाल श्री राम प्रकाश गुप्ता ने भोपाल के प्रसिद्ध लाल परेड मैदान में शपथ दिलाई थी।

उमा भारती ने नब्बे के दशक की शुरुआत में साध्वी ऋतंभरा के साथ मिलकर राम जन्म भूमि आंदोलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। राम जन्म भूमि आंदोलन में उनकी भूमिका के कारण ही भारतीय जनता पार्टी में उमा भारती का राजनैतिक ग्राफ काफी बढ़ गया था जो उन्हे मध्य प्रदेश के मुख्य मंत्री के पद तक ले गया।

उमा भारती ने केंद्र की नरेंद्र मोदी की सरकार में भी कई महत्वपूर्ण मंत्रालयों का कार्यभार संभाला है। इसमें भारत की जल संसाधन, नदी विकास, और गंगा सफाई मंत्री के रूप में किए गए उनके कार्य उल्लेखनीय हैं।  भारत के भूतपूर्ण प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वजपायी के मंत्रिमंडल में भी उमा भारती जी मंत्री पद पर कार्य कर चुकी हैं।

उमा भारती जी का जन्म 3 मई 1952 को मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले में हुआ था। बचपन से ही निडर और धार्मिक स्वभाव वाली उमा भारती जी ने सनातन धर्म( हिन्दू धर्म) के सन्यासियों की गौरवशाली परंपरा का अनुशीलन किया है और अविवाहित हैं। मध्य प्रदेश की मुख्य मंत्री के पद से उमा भारती को 2004 में अपने खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी होने के बाद इस्तीफा देना पड़ा था।

Read also :-

Leave a Reply