महाराष्ट्र का राज्यपाल कौन है 2019 में।

  • श्री चेन्नामनेनी विद्यासागर राव (Chennamaneni Vidyasagar Rao)                                    
  • महाराष्ट्र के राज्यपाल :- 18 वें
  • जन्मतिथि :- 12 फरवरी 1942                                                                                                                
  • पार्टी :- भारतीय जनता पार्टी

maharastra ke rajyapal koun hai

श्री चेनमनेनी विद्यासागर राव महाराष्ट्र के राज्यपाल हैं। श्री विद्यासागर राव -Shri Chennamaneni Vidyasagar Rao-महाराष्ट्र के 18वें राज्यपाल हैं। श्री विद्यासागर राव ने 30 अगस्त 2014 को महाराष्ट्र के राज्यपाल के रूप में शपथ ली है और तब से ही वे महाराष्ट्र के गवर्नर बने हुए हैं। उन्हे Public life (सार्वजनिक जीवन) का बहुत व्यापक और गहरा अनुभव है। मुंबई उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश Mohit Shah ने श्री विद्यासागर राव को महाराष्ट्र के राज्यपाल की शपथ दिलाई थी।

श्री विद्यासागर राव तेलंगाना के वरिष्ठ भाजपा नेता हैं और श्री अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली सरकार में 1999 – 2004 के बीच केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग राज्य मंत्री के रूप में कार्य करने का अनुभव रखते हैं। इसके अलावा वे अटल बिहारी जी की सरकार में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के पद पर भी कार्य कर चुके हैं।

महाराष्ट्र के राज्यपाल ( चेनमनेनी विद्यासागर राव ) के बारे में सामान्य जानकारी –

एक सांसद के रूप में महाराष्ट्र के राज्यपाल श्री विद्यासागर राव पहली बार 1998 में करीमनगर निर्वाचन क्षेत्र से 12 वीं लोकसभा के लिए चुने गए थे। उसके बाद 13वीं लोकसभा के लिए फिर से उनका निर्वाचन 1999 में हुआ था। महाराष्ट्र के वर्तमान राज्यपाल श्री विद्यासागर राव अविभाजित आंध्र प्रदेश की करीमनगर जिले में स्थित मेटपल्ली विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से लगातार 1985, 1989 और 1994 में  विधायक रह चुके हैं। भाजपा विधायक के रूप में वे आंध्र प्रदेश विधानसभा में भाजपा के सदन नेता भी थे।

श्री विद्यासागर राव का जन्म 12 फरवरी 1942 को कारीमनगर में हुआ था और बचपन से ही वो राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता के रूप में RSS से जुड़ गए थे। उन्होने B.Sc. की डिग्री प्राप्त करने के बाद उस्मानिया विश्वविद्यालय से वकालत की शिक्षा भी पूरी की थी। इसके अलावा श्री विद्यासागर राव अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) से भी जुड़े थे। इन्दिरा गांधी द्वारा लगाये गए 1975 में आपातकाल के समय वारंगल जिले की केंद्रीय जेल में एक वर्ष के लिए बंद कर दिया गया था। श्री विद्यासागर राव ने जनसंघ और Janata Party (जनता पार्टी) के करीमनगर जिला अध्यक्ष के रूप में भी काम किया है।

श्री विद्यासागर राव का विवाह श्रीमती विनोदा से हुआ है और उन्हे एक बेटी और दो पुत्र हैं। श्री विद्यासागर राव ने वर्ष 1973 में करीमनगर से अपनी वकालत की शुरुआत की थी।

Leave a Reply