पंजाब में कितने ज़िले हैं 2019

पंजाब भारत के 28 पूर्ण राज्यों में से एक राज्य है। यह भारत के उत्तरी भाग में स्थित है। पंजाब के उत्तर में जम्मू कश्मीर की सीमाएं लगती हैं। इसके अलावा पूर्व में हिमाचल प्रदेश, दक्षिण में हरियाणा तथा दक्षिण – पश्चिम में राजस्थान की सीमाएं लगती है। पंजाब के पश्चिम में इसी से अलग हुए पाकिस्तान का पंजाब प्रांत लगता है। पंजाब क्षेत्रफल के आधार पर भारत का 20वां सबसे बड़ा राज्य है। इसका कुल क्षेत्रफल 50,362 वर्ग किलोमीटर है। यह क्षेत्र भारत के कुल क्षेत्रफल का 1.53 प्रतिशत है। वहीं जनसंख्या के आधार पर पंजाब भारत का 16वां सब से बड़ा राज्य है। 2011 की जनगणना के अनुसार पंजाब की कुल आबादी 27,704,236 थी। यहां का घनत्व 550 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है।

पंजाब भारत का एक मात्र सिक्ख बहुल राज्य है। अंग्रेज़ी हुकूमत में यह क्षेत्र पंजाब प्रांत के नाम से जाना जाता था। लेकिन भारत पाकिस्तान के बंटवारे के साथ ही पंजाब का भी बंटवारा हो गया। इसे West Punjab तथा East Punjab में बांटा गया था। इसमें से एक भाग यानी West Punjab पाकिस्तान के हिस्से में आया। वह हिस्सा वर्तमान में भी पाकिस्तान में पंजाब प्रांत के नाम से जाना जाता है। वहीं भारत के हिस्से में East Punjab आया। East Punjab ही पंजाब के नाम से एक राज्य के रूप में बना। यह बंटवारा काफी हद तक धार्मिक आधार पर किया गया था।

punjab me kitne jile hai

भारत के हिस्से में आने के बाद फिर राज्य की स्थापना को ले कर पंजाब में संघर्ष देखने को मिला। इसके बाद अंततः 1 नवंबर 1966 को पंजाब के साथ ही हरियाणा तथा केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ की स्थापना की गई। इस कारण 1 नबंवर को ही पंजाब का राज्य दिवस मनाया जाता है। राज्य की स्थापना के साथ ही इसे कई ज़िलों में बांटा गया। वर्तमान समय में पंजाब में 22 ज़िले हैं। इन 22 ज़िलों में से कई ज़िलों की सीमाएं पड़ोसी राज्यों की सीमाओं से लगती है। इसके अलावा कुछ हिस्सा पाकिस्तान से भी लगता है।

पंजाब में कितने जिले है list

पंजाब में कुल 22 ज़िले हैं। इनमें से कुछ ज़िले 1 नवंबर 1966 को पंजाब राज्य के गठन होने के बाद ही अस्तित्व में आ गये थे। जबकि कुछ ज़िले पिछले कुछ वर्षों में ही बनाए गए हैं। भारत के अन्य पूर्ण राज्यों के जिलों की ही तरह ये अभी 22 ज़िले, जिलाधिकारी के नियंत्रण में ही रहते है। प्रशासनिक आधार पर इन 22 ज़िलों को कुल 5 Division में बांटा गया है। पंजाब के ये 5 डिवीज़न पटियाला, रूपनगर, जालंधर, फरीदकोट तथा फिरोजपुर है।

पंजाब के सभी 22 ज़िलों में से कुछ ज़िले राज्य की अर्थव्यवस्था में बड़ा योगदान देते हैं। इन ज़िलों के कई बड़े शहर व्यापार का बड़ा केंद्र है। इस कारण काफी संख्या में लोग यहां रोजगार के लिए आते हैं। इसका बड़ा कारण यह है कि पंजाब के कई ज़िलों में बड़ी संख्या में उद्योग मौजूद है। भारत के सभी 28 पूर्ण राज्यों में से आर्थिक आधार पर पंजाब की स्तिथि काफी अच्छी है। पंजाब भारत का 14वां सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाला राज्य है। पंजाब का कुल GDP 5.18 लाख करोड़ है। इसके अलावा Human Development Index में पंजाब तीसरे नंबर पर है।

पंजाब के सभी ज़िलों की सूची निम्नलिखित है।

  • लुधियाना जिला
  • अमृतसर जिला
  • जालंधर जिला
  • साहिबजादा अजीत सिंह नगर जिला
  • गुरदासपुर जिला
  • पटियाला जिला
  • फतेहगढ़ साहिब जिला
  • कपूरथला जिला
  • रूपनगर जिला
  • शहीद भगत सिंह नगर जिला
  • होशियारपुर जिला
  • तरनतारन जिला
  • संगरूर जिला
  • मोगा जिला
  • फरीदकोट जिला
  • बरनाला जिला
  • बठिंडा जिला
  • फिरोजपुर जिला
  • मानसा जिला
  • मुक्तसर जिला
  • पठानकोट जिला
  • फ़ज़िलका जिला

पंजाब का सबसे बड़ा ज़िला कौन सा है ?

पंजाब के 22 ज़िले हैं। ये सभी ज़िले एक दूसरे से जनसंख्या एवं क्षेत्रफल के आधार पर भिन्न हैं। लेकिन जनसंख्या एंव क्षेत्रफल, दोनो के ही मामले में पंजाब का सबसे बड़ा ज़िला एक ही जिला है।

क्षेत्रफल तथा जनसंख्या के आधार पर पंजाब का सबसे बड़ा ज़िला लुधियाना ज़िला है। लुधियाना का कुल क्षेत्रफल 3,767 वर्ग किलोमीटर है। यह राज्य के अन्य ज़िलों की अपेक्षा सबसे अधिक है। लुधियाना ज़िले में 8 तहसील है। इसके अलावा यहां 7 उप तहसील भी हैं। लुधियाना ज़िले के तहत 12 कार्यालय भी आते हैं। यहां 14 विधानसभा क्षेत्र हैं। लुधियाना ज़िला पंजाब का सबसे बड़ा ज़िला होने के अलावा यह Punjab का सबसे बड़ा औद्योगिक केंद्र भी है। काफी बड़ी संख्या में यहां फैक्ट्रियां हैं। यहां मुख्य रूप से कल पुर्जो तथा कपड़े की फैक्ट्रियां है। राज्य के कुल व्यापार का एक बड़ा हिस्सा केवल इसी ज़िले से किया जाता है।

जनसंख्या के आधार पर भी पंजाब का सबसे बड़ा ज़िला लुधियाना ही है। 2011 की जनगणना में लुधियाना की कुल आबादी 3,487,881 थी। यह आबादी पंजाब की कुल आबादी का 12.59 प्रतिशत है। यहां का घनत्व 975 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है। यहां 1000 लड़कों पर केवल 869 लड़कियां ही है। लुधियाना की साक्षरता दर 82.50 प्रतिशत है। ज़िले की कुल आबादी में 53.26 प्रतिशत आबादी सिक्ख धर्म के मानने वालों की है।

लुधियाना की कुल आबादी में हिंदुओं की भागीदारी 42.94 प्रतिशत है। इसके अलावा यहां 0.22 % मुस्लिम तथा 0.47 प्रतिशत आबादी क्रिश्चियन धर्म के मानने वालों की है। 1.11 प्रतिशत आबादी अन्य धर्म से संबन्ध रखती हैं। यहां मुख्य रूप से बोले जाने वाली भाषा पंजाबी ही है। 2001 से 2011 के बीच लुधियाना की आबादी में 15 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी।

पंजाब का सबसे छोटा ज़िला कौन सा है ?

क्षेत्रफल एंव जनसंख्या के आधार पर पंजाब के 22 ज़िलों में से सबसे छोटा ज़िला अलग – अलग है।

  • क्षेत्रफल के आधार पर पंजाब का सबसे छोटा ज़िला

क्षेत्रफल के आधार पर पंजाब का सबसे छोटा ज़िला पठानकोट ज़िला है। पठानकोट ज़िले की स्थापना 27 जुलाई 2011 को की गई थी। तब यह जिला पंजाब का 22वां ज़िला बना था। पठानकोट ज़िले का कुल क्षेत्रफल 929 वर्ग किलोमीटर है। यह पंजाब के सभी ज़िलों में सबसे कम क्षेत्रफल वाला जिला है। यह जिला Sivalik Hills की तलहटी में बसा हुआ है। पठानकोट की सीमा पंजाब के कई अन्य पड़ोसी राज्यों की सीमाओं से लगती है। इसके अलावा पठानकोट की सीमाएं पाकिस्तान पंजाब के Narowal ज़िले से भी मिलती है। पठानकोट ज़िले से हो कर 2 प्रमुख नदियां Beas तथा Ravi नाम की नदी भी बहती है।

2011 की जनगणना में पठानकोट की कुल आबादी 626,000 थी। यहां का घनत्व 670 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर था। यह जिला पंजाब के उन चुनिंदा ज़िलों में शामिल है, जहां सिक्खों की अपेक्षा हिन्दू धर्म की आबादी अधिक है। पठानकोट में सबसे अधिक संख्या हिन्दू धर्म को मानने वालों की है। इसके बाद सिक्ख धर्म का नंबर आता है। कुछ संख्या में यहां मुस्लिम तथा क्रिश्चियन धर्म वाले भी रहते हैं।

   • जनसंख्या के आधार पर पंजाब का सबसे छोटा ज़िला

जनसंख्या के आधार पर पंजाब का सबसे छोटा ज़िला बरनाला ज़िला है। 2006 में बरनाला ज़िले की स्थापना हुई थी। इससे पहले यह ज़िला संगरूर ज़िले का हिस्सा हुआ करता था। यह जिला पंजाब के लगभग बिल्कुल मध्य में ही स्थित है। 2011 की जनगणना में बरनाला ज़िले की कुल जनसंख्या 596,294 थी। पंजाब में  यह सभी अन्य ज़िलों की अपेक्षा सबसे कम आबादी वाला जिला था। बरनाला ज़िले की कुल आबादी में 78.54 प्रतिशत आबादी सिक्ख धर्म वालों की है। यहां दूसरे नंबर पर 18.95 % की आबादी के साथ हिन्दू धर्म है।

यहां का तीसरा बड़ा धर्म 2.20 प्रतिशत की आबादी के साथ इस्लाम धर्म है। इन सब के अलावा 0.30 प्रतिशत आबादी अन्य धर्मों को मानने वालों की है। जनसंख्या में भले ही यह सबसे छोटा ज़िला हो, लेकिन क्षेत्रफल में सबसे छोटा नही है। बरनाला ज़िले का कुल क्षेत्रफल 1423 वर्ग किलोमीटर है।

Leave a Reply