RIP Full Form – रिप का पूरा नाम या Death में इसकी क्या मीनिंग है।

आज हम RIP से जुड़ी जानकारियां आपके साथ share करने वाले हैं। आज हम आपको बताएंगे RIP का Full Form क्या होता है। कई बार हम लोगों को social media आदि पर RIP word का use करते देखते हैं। लेकिन 100 में से 99 को इसका अर्थ पता नहीं होता कि आखिर RIP है क्या और Rip full form क्या होता है। दोस्तों, शब्दों में इतनी ताकत है कि उससे किसी व्यक्ति को एक सम्बल और motivation तक मिल जाता है। तभी तो हम अक्सर exam आदि देने जाते हैं, तो  Best of luck या All the best जैसे शब्दों का use करते हैं। आप भी जानते हैं कि ये word सुनने के बाद हमारे अंदर एक ताकत सी आ जाती है। इस तरह के कई सारे शब्द हुआ करते हैं, जो सुखद और दुखद दोनों परिस्थिति के अनुसार हो सकते हैं। उनमें ही RIP word दुखद परिस्थिति से जुड़ा है, जिसके बारे में आपको आगे जानकारी मिलने वाली है। अगर आपके मन में भी RIP से जुड़े क्वेश्चन हैं, तो आप RIP full form लेख पूरा जरूर पढ़ें।

rip ka full form kya hota hai

RIP Full Form in hindi

RIP का full form अंग्रेजी में Rest in peace और हिंदी में आत्मा को शांति मिले होता है। लेकिन इसका use दरअसल आत्मा की शांति के लिए किया जाता है। जब भी किसी की death होती है, तो उसकी आत्मा की शांति के लिए RIP word का use किया जाता है। जैसा कि आपने इस word पर ध्यान दिया होगा Rest word जिसका अर्थ आराम होता है, से सम्बंधित है। पर यहां Peace word से जब इसका relation हो जाता है, तो ये आत्मा के आराम के लिए use होता है। इस word को लैटिन भाषा के एक sentence Requiescat in pace से लिया गया है, जिसका अर्थ भी आत्मा की शांति के लिए की जाने वाली प्रार्थना से है। यहां पर एक बात खास जानने वाली ये है कि ये word विशेष तौर पर ईसाई धर्म के लोग किसी की death के बाद उसे दफनाने के बाद उसकी कब्र पर लिखते हैं।

RIP Word History in hindi

ये शब्द पश्चिमी देशों में use होता था। धीरे-धीरे ये अन्य देशों में भी use होने लगा। आप तो जानते ही हैं कि एक देश में जब कोई चीज चलती है, तो धीरे-धीरे समय के साथ वो बाकी के देशों में भी फैल जाती है। सबसे पहले इसका use 16 वीं से 18 वीं शताब्दी में ईसाई धर्म के लोगों के द्वारा किया जाता था और आज भी किया जा रहा है। 21 वीं सदी में इसका सबसे ज्यादा use facebook और whatsapp जैसे सोशल मीडिया नेटवर्क पर हो रहा है।

RIP word से जुड़ी खास बातें

  1. ये word death हुए व्यक्ति को सहानुभूति देने के लिए और उसकी आत्मा की शांति की कामना के लिए लिखा जाता है।
  2. इसका use किसी भी धर्म के व्यक्ति की मृत्यु के बाद लोग अक्सर उनकी आत्मा की शांति के लिए सोशल मीडिया पर करते हैं।
  3. ये word दुखद स्थिति के लिए अपने चाहने वाले के चल गुजरने के लिए use होता है।
  4. इस word में संवेदना के साथ-साथ किसी को खोने का भाव भी शामिल होता है।
  5. ईसाई धर्म के अलावा मुस्लिम धर्म में भी कई बार इस word का use देखने को मिलता है।
  6. RIP का अर्थ आत्मा की शांति के अलावा चीरना भी होता है। ये अपने-अपने अर्थ और परिस्थिति के अनुसार use होते हैं।
  7. इस word का use आपको कहीं पर short देखने को मिलता है, तो कहीं पर Rest in peace देखने को मिलेगा।
  8. इस word का use लोग modern समय के चलते भी ज्यादा करने लगे हैं।
  9. ये word किसी एक के लिए use नहीं होकर मरे हुए सभी लोगों के लिए use होता है।
  10. इस word का use आज से नहीं बल्कि सदियों से किया जा रहा है।

RIP शब्द का सही Use

दोस्तों, किसी भी शब्द का अर्थ तब तक नहीं होता जब तक कि उस शब्द में भाव नहीं हो। भाव यानी feelings और emotions के बिना कोई भी शब्द कुछ काम का नहीं होता। RIP भी ऐसे ही शब्दों में शामिल है। कहने को तो ये केवल एक शब्द मात्र है। लेकिन जब ये शब्द किसी शख्स के द्वारा अपने परिचित को खोने के बाद निकलता है, तब इस शब्द का सही use हो पाता है। क्योंकि ये शब्द ऐसी ही परिस्थिति के लिए बना है। जब इंसान के हृदय में अपने परिचित को खोने के बाद दूर होने और रोने का भाव सक्रिय हो जाता है, तब ये word उसके हृदय की भावनाओं के माध्यम से निकलता है तब इस शब्द का मोल होता है। तब ये शब्द उस शख्स की feeling और emotions के साथ God यानी ऊपर वाले तक पहुंच पाता है। आपने तो सुना ही होगा कि जब तक हम सच्चे दिल से ईश्वर को याद करके कुछ मांगते नहीं है, तब तक हमें कुछ हासिल नहीं होता। इसीलिए इस word का use भी emotions और feeling पर निर्भर करता है।

RIP word और digital platform

आपको जानकर आश्चर्य होगा कि इस शब्द का use आज तक कब्र से भी ज्यादा सोशल मीडिया नेटवर्क पर हो गया होगा। आप तो जानते हैं कि इंटरनेट सस्ता होने के बाद हर व्यक्ति  सोशल मीडिया का use करने लगा है और वो इसी के माध्यम से अपने दूर बैठे परिचित से जुड़ा रहता है। आज करोड़ो users होंगे, जो रोजाना सोशल मीडिया का use करते हैं। ऐसे में एक दिन में हजारों बार सोशल मीडिया पर इस शब्द का use होता होगा। अपने परिचित को खोने के बाद अधिक लोगों तक इस बात की सूचना पहुंचाने के लिए लोग सोशल मीडिया का ही use करते हैं, जहां इस शब्द का बहुत use होता है। ये जानने के बाद आप स्वयं अंदाज़ा लगा सकते हैं कि एक दिन में इस word का use कितना होता होगा और कहां होता होगा।

Finders, अगर आपको यह जानकारी पसंद आई हो “RIP Full Form” तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं और अगर आप RIP Full Form के लेख के माध्यम से कुछ क्वेश्चन पूछना चाहते हैं तो आप हमारी टीम से पूछ सकते हैं। हमने RIP से जुड़ी कई जानकारियां आपके साथ share की है, जो आपके बहुत काम की जानकारी है। अगर आपको लगता है कि RIP Full Form लेख में कोई जानकारी छूट गई है, तो आप हमसे ये बात comment में share कर सकते हैं, हम उसमें जरूर सुधार कर आपका मार्गदर्शन करने का प्रयास करेंगे।

Follow us on other platforms too. Stay Connected!

19 thoughts on “RIP Full Form – रिप का पूरा नाम या Death में इसकी क्या मीनिंग है।”

  1. बहुत ही रोचक तरीके से समझाया है आपने
    रिप के बारे में.
    स्टेप बाय स्टेप पढ़ के अच्छा लगा

    Reply
  2. Thank you so much
    RIP के बारे मे आपके द्वारा दी गई जानकारी बहुत ही अच्छी लगी और आपने जो लिखा था 100 मे से 99 को नही पता वो बिलकुल सही है।

    Reply
    • suman ji aapko hamre dwra di gai information pasnd aayi, hme achha laga, keep visiting hme aage bhi information krte rhege

      Reply
  3. RIP शब्द ईसाई धर्म एवं मुस्लिम धर्म से जुड़े समाज के लिए सटीक बैठता है क्योंकि इन लोगों में मृत्यु के बाद शरीर को जलाया नहीं बल्कि एक परम्परा के अनुसार मिट्टी के नीचे एक घर बनाकर उन्हें रख दिया जाता है। उनकी आत्मा कयामत आने तक कब्र में आराम करते हैं।
    उधर दुसरी तरफ हिन्दू धर्म एवं सिख धर्म में मृत्यु हो जाने पर उनके शरीर को जलाने के बाद श्राद्धकर्म के उपरांत आत्मा अपने इष्टदेव के चरणों में समर्पित हो जाता है। इनके आत्मा से सहानुभूति के लिए मेरे समझ से ” हे राम !” शब्द सबसे उपयुक्त है।

    Reply

Leave a Comment