सिक्किम की राजधानी क्या है – Capital of Sikkim in Hindi

सिक्किम की राजधानी क्या है ( Capital of Sikkim) इस आर्टिकल में हम इस बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे क्योंकि सिक्किम, भारत का एक important state है जिसकी राजधानी क्या है इसके बारे में जानकारी होना अति आवश्यक है। इसलिए Sikkim ki rajdhani क्या है यह जानने के साथ ही हम इस राज्यके बारे में भी कुछ जानकारी प्राप्त करेंगे जिससे हमें और ज्यादा knowledge प्राप्त हो सके। चलिए शुरू करते हैं।

सिक्किम भारत के उत्तर-पूर्व में स्थित है। यह भारत का दूसरा सबसे छोटा राज्य है एवं आबादी के मामले में यह सबसे कम आबादी वाला राज्य है। हिमालय की गोद में स्थित इस राज्य की राजधानी है “गंगटोक“। गंगटोक सिक्किम का सबसे बड़ा शहर भी है। गंगटोक के बारे में प्रसिद्ध है कि यह लगभग 17वी शताब्दी से ही  सिक्किम साम्राज्य की राजधानी रहा है। तत्कालीन सिक्किम में बुद्धिस्ट राजा हुआ करते थे जो कि चोग्याल संप्रदाय से आते थे। बाद में यह साम्राज्य एक प्रिंसली स्टेट बन गया।

sikkim ki rajdhani kya hai

1947 में भारत की आजादी के बाद से लेकर 1975 तक सिक्किम एक स्वतंत्र देश के रूप में भारत के संरक्षण में था, परंतु 1975 में राज परिवार के समर्थकों एवं इसके विरोधियों के बीच में भारी दंगे हुए जिसके पश्चात तत्कालीन भारत सरकार ने सिक्किम में जनमत संग्रह करा कर यह पूछा कि क्या वह भारत का हिस्सा बनना चाहते हैं जिस पर सिक्किम की जनता ने हां में जवाब दिया, तत्पश्चात सिक्किम भारत का एक नया राज्य बन गया एवं गंगटोक इसकी राजधानी बनी  रही।

-: सिक्किम राज्य एक नजर में :-

1. सिक्किम का गठन 10 अप्रैल 1975
2. राजधानी गंगटोक
3. राज्य क्षेत्रफल 7096 वर्ग कि. मी.
4. जनसंख्या 2011 में 6,10,577
5. सबसे बड़ा शहर गंगटोक 

गंगटोक भी बाकी के सिक्किम की तरह हिमालय की गोद में बसा हुआ है, कंचनजंघा यहां से ज्यादा दूर नहीं है जो कि दुनिया की तीसरी एवं भारत की सबसे ऊंची चोटी है। अगर आप गंगटोक के पश्चिम में जाएंगे तो आप आसानी से कंचनजंघा को देख सकते हैं। गंगटोक के वर्तमान मेयर शक्ति सिंह चौधरी हैं।  गंगटोक का कुल क्षेत्रफल 19.2 वर्ग किलोमीटर है।  2011 की जनगणना के अनुसार गंगटोक की जनसंख्या 1,00,286 है। गंगटोक समुद्र तल से 1650 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है।  इसके बारे में माना जाता है कि लंबे समय तक भारतीय उपमहाद्वीप एवं तिब्बत के बीच में व्यापार का बहुत बड़ा गण  गंगटोक था, परंतु चाइना के तिब्बत पर नाजायज कब्जे के पश्चात भारत का तिब्बत से संबंध खत्म हो गया। गंगटोक एक ऐसा शहर है जो दो नदियों के बीच में बसा हुआ है यह दो नदियां हैं रोरो चु और रानीखोला

-: पर्यटन की दृस्टि से सिक्किम :-

पर्यटन (tourism) के आधार पर भी  गंगटोक बहुत महत्वपूर्ण शहर है। गंगटोक से 40 किलोमीटर दूर सोमगो  लेक  उपस्थित हैं, इस लेक  की समुद्र तल से ऊंचाई लगभग 12400 फीट है, यह भारत में सबसे ऊंची जगह पर स्थित झील (lake) में से एक है। रवांग्ला, गंगटोक एवं पीलिंग के बीच में एक और ऐसी जगह है जो बड़ी मात्रा में पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है, प्रतिवर्ष हजारों की संख्या में ट्रैकिंग के दीवाने इस जगह पर आकर अपने हुनर की आजमाइश करते हैं।

गंगटोक के ही नजदीक रूमटेक मठ (rumtek monastery)है, यह सिक्किम की ही नहीं बल्कि दुनिया की सबसे पुरानी बुद्धिस्ट मॉनेस्ट्री में से एक है , इसको धर्म चक्र केंद्र के रूप में भी जाना जाता है। गंगटोक हिमालय पर्वत श्रेणी की गोद में  कंचनजंगा पर्वत के पास बसा एक बहुत ही खूबसूरत शहर है।  यह शहर सिक्किम के लिए ना सिर्फ राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण है बल्कि आर्थिक रूप से भी काफी ज्यादा महत्वपूर्ण है। सिक्किम की आय का सबसे महत्वपूर्ण साधन पर्यटन है एवं पर्यटन के क्षेत्र में गंगटोक बहुत महत्वपूर्ण शहर है।

भारत के सभी 29 राज्यों की राजधानी क्या है पढ़िए

अरुणाचल प्रदेश की राजधानीआंध्र प्रदेश की राजधानीअसम की राजधानी
उड़ीसा की राजधानी उत्तर प्रदेश की राजधानी उत्तराखंड की राजधानी
मध्यप्रदेश की राजधानी मणिपुर की राजधानी कर्नाटक की राजधानी
मेघालय की राजधानीनागालैंड की राजधानी महाराष्ट्र की राजधानी
छत्तीसगढ़ की राजधानीतेलंगाना की राजधानी झारखंड की राजधानी
गुजरात की राजधानी राजस्थान की राजधानी बिहार की राजधानी
हिमाचल प्रदेश की राजधानी हरियाणा की राजधानी तमिलनाडु की राजधानी
जम्मू & कश्मीर की राजधानी बिहार की राजधानी त्रिपुरा की राजधानी
केरल की राजधानीगोवा की राजधानी West Bengal की राजधानी

दोस्तो, आपको यह आर्टिकल सिक्किम की राजधानी क्या है में दी गई information पसद आयी या नहीं ? यह हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं और अगर आप किसी और अन्य भारतीय राज्य की Sikkim ki rajdhani के अलावा भी जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो वह भी हमे कमेंट के माध्यम से बता सकते हैं हम आपकी help करने के लिए उत्सुक हैं। धन्यवाद !

Arvind Patel

Follow us on other platforms too. Stay Connected!

Leave a Comment