The Monk Who Sold His Ferrari के लेखक कौन है ?

अगर आपको पढ़ने का थोड़ा भी शौक है, या फिर आप पुस्तक प्रेमी है, तो निश्चित तौर पर आप इस Book से वाकिफ होंगे। करीबन 200 पन्नो की यह पुस्तक, जीवन के कुछ महत्वपूर्ण एवं सकारात्मक पहलुओं को प्रदर्शित करती है। पाठकों के साथ अक्सर ऐसा होता है कि, वह किसी भी बुक की Story, उसके पात्र एवं सारांश को आसानी से याद कर लेते है, लेकिन विरले ही Readers ऐसे होते है, जिन्हें उस पुस्तक के लेखक के बारे में जानकारी ज्ञात होती है। इस Article में हम इसी पर जोर देते हुये, इस पुस्तक के लेखक के साथ इस पुस्तक के बारे में भी जानेंगे।

The monk who sold his ferrari के लेखक :-

इस बुक के लेखक जानी मानी शख्सियत रॉबिन शर्मा (Robin Sharma) है। जिनकी अनेको किताबो की गिनती Beat Seller के रूप में होती है।

इनका जन्म 16 जून 1964 को कनाडा के Port Hawkesbury में हुआ था, जबकि इनके माता पिता भारतीय मूल के थे। इनकी माता का नाम शशि शर्मा (Shashi Sharma) एवं पिता का नाम शिव शर्मा (Shiv Sharma) था। जो कश्मीर के रहवासी थे, लेकिन कुछ समय पश्चात कनाडा में जा बसे। इन्होंने अपनी शिक्षा Schulich School of Law, Dalhousie University से प्राप्त की। अपने शुरुआती दिनों से वह बुद्धिमान प्रवृत्ति के व्यक्ति थे। जिसके चलते इन्होंने Law में अपनी डिग्री पूर्ण करी। जिसके बाद उन्होंने वकालत शुरू कर दी। लेकिन उनका इस पेशे में सफर ज्यादा लंबे समय तक नही चला। वकालत त्यागने के बाद उन्होंने अपना रुझान लेखन की तरफ मोड़ लिया।

एक लेखक होने के साथ साथ रॉबिन एक बेहतरीन विचारक भी है। उनके सकारात्मक विचारों को अपनाकर ढेरों लोगों ने अपनी जिंदगी में अविश्वसनीय परिवर्तन पाये है। वह अपने Blog के माध्यम से भी लोगों को जीवन का सार एवं महत्वपूर्ण तथ्यों से अवगत कराते है। शर्मा अपने Blog “Be the Leader You Were Meant to Be” के नाम से लिखते है। एक अच्छे लेखक के साथ यह एक परोपकारी व्यक्ति भी है। गरीब एवं जरूरतमंद बच्चो की सहायता के लिये वह “Robin Sharma Foundation for Children” भी चलाते है। इस पुस्तक के अलावा भी इनकी अन्य कई Books Best Seller की श्रेणी में आती है, जिनमे से कुछ मुख्य निम्न है।

◆ The 5AM Club

◆ The Leader Who Had No Title

◆ Family Wisdom From The Monk Who Sold His Ferrari

◆ Who Will Cry When You Die?

◆ The Greatness Guide

पुस्तक के बारे में :-

यह पुस्तक एक प्रेणादायक कथा पर आधारित है, जिसमे मानव मूल्यों को बड़े ही सुंदर ढंग से पिरोया गया है। समय का पूर्णतम उपयोग, साहस, संयम एवं जीवन को आनंदपूर्ण तरीके से जीने, जैसे उच्च गुणों को इसमें उकेरा गया है। इस कहानी की शुरूआत एक प्रसिद्ध वकील जूलियन मेंटले (Julian Mantle) के किरदार के साथ होती है। जिसके पास एक विलासितापूर्ण जीवन जीने के सभी साधन उपलब्ध रहते है, किंतु वह अपने जीवन से असंतुष्ट एवं हताश रहता है। जिसके उपरांत वह सब कुछ त्याग कर हिमालय चला जाता है, जहाँ वह संतो से जीवन मूल्यों का ज्ञान प्राप्त करता है। इन्ही जीवन मूल्यों को इस पुस्तक में बड़े सुंदर तरीके से समाहित किया गया है।

Leave a Reply