ट्रेन की खोज कब और किसने की थी।

ट्रेन का सफर तो हम सबने किया है लेकिन क्या आप यह जानते हैं कि रेलवे दुनिया का सबसे बड़ा परिवहन का साधन है। आज ट्रेनों की स्पीड 500 किलोमीटर प्रति घंटे से भी ज्यादा पहुँच चुकी है। इंग्लैंड से शुरू हुआ ट्रेनों का इतिहास 200 वर्षों से भी अधिक पुराना है। हम सभी जानते हैं कि स्टीम इंजिन को सबसे पहले 1784 में जेम्स वॉट ने आविष्कार किया था। लेकिन पहली ट्रेन की खोज किसने की और सबसे पहले ट्रेन कहाँ चली थी? आइए ट्रेनों के इतिहास की पूरी कहानी जानते हैं।

train ki khoj kisne ki thi

सबसे पहले ट्रेन कब और किसने बनाई थी ?

कॉर्नवाल में पैदा हुए एक ब्रिटिश इंजीनियर रिचर्ड ट्रेविथिक (Richard Trevithick 1771-1833) ने  सबसे पहले रेलवे स्टीम लोकोमोटिव का निर्माण 1804 में किया था। 21 फरवरी, 1804 को, ट्रेविथिक के द्वारा डिज़ाइन किए गए इंजिन ने, 10 टन लोहे और 70 आदमियों के साथ, पांच मील प्रति घंटे की गति से South Wales में पेनिडरेन आयरनवर्क्स के ट्रामवे पर यात्रा की थी। यह विश्व की प्रथम रेल इंजिन आधारित यात्रा थी।

  • पहला सार्वजनिक (Public) रेलवे

1825 में, इंग्लैंड के इंजीनियर जॉर्ज स्टीफनसन ने सबसे पहले Public रेलवे का निर्माण किया था। जॉर्ज स्टीफनसन को 1821 में स्टॉकटन और डार्लिंगटन रेलवे के निर्माण के लिए इंजीनियर के तौर पर नियुक्त किया गया था। स्टॉकटन डार्लिंगटन रेलवे लाइन का उद्घाटन 1825 में किया गया और यह दुनिया की सबसे पहली Public रेलवे थी। स्टॉकटन डार्लिंगटन रेलवे लाइन और जॉर्ज स्टीफनसन के डिज़ाइन किए हुए इंजिन “Rocket” की अपार सफलता ने पूरे इंग्लैंड में रेलवे लाइनों और लोकोमोटिव के निर्माण को प्रोत्साहित किया। उनकी इस सफलता ने उन्हे बहुत प्रसिद्धि दीऔर दुनिया के अन्य देशों जैसे की बेल्जियम और स्पेन में रेलवे के विकास पर परामर्श देने के लिए उन्हे बुलाया गया। इन सभी ट्रेनों में जेम्स वॉट द्वारा बनाए गए स्टीम लोकोमोटिव का इस्तेमाल किया गया था।

  • बिजली से चलने वाली पहली ट्रेन

रॉबर्ट डेविडसन ने 1837 में स्कॉटलैंड में सबसे पहले इलैक्ट्रिक लोकोमोटिव का निर्माण किया था जो बैटरी (Cells) से चलता थी। इसके बाद 1879 में वर्नर वॉन सीमेंस ने बर्लिन, जर्मनी में इलेक्ट्रिक ट्रेन का प्रदर्शन किया था। दुनिया की सबसे पहली इलैक्ट्रिक रेलवे लाइन का उद्घाटन 1881 में बर्लिन में ही हुआ था।

हाइपरलूप (Hyperloop) Transportation सिस्टम क्या है?

हाइपरलूप अब तक का सबसे आधुनिक और सबसे तेज़ गति से जमीन पर चलने वाला यातायात का साधन है जो डिज़ाइन किया जा रहा है। हाइपरलूप 760 मील प्रति घंटा या 1,220 किमी / घंटा तक की अधिकतम तूफानी  स्पीड से एक जगह से दूसरी जगह तक का सफर कर सकने में सक्षम होगा। हाइपरलूप एक हाई-टेक, सुपरफास्ट परिवहन की अवधारणा है जो टेस्ला (Tesla) और स्पेसएक्स (SpaceX) कंपनियों के मालिक एलोन मस्क (Elon Musk) के द्वारा 2013 से शुरू की गयी है।

Read also :_

Leave a Reply