उदयपुर का पुराना नाम क्या है ? Old Name of Udaipur

अक्सर शहरों के कई पुराने नाम होते हैं। विशेषकर ऐतिहासिक शहरों की बात होती है तो उसका भी पुराना नाम अक्सर देखने को मिल जाता है। ऐसा ही एक ऐतिहासिक शहर राजस्थान का उदयपुर भी है। उदयपुर के बारे में लोगों के दिमाग में एक सवाल आता है कि उदयपुर का पुराना नाम क्या है। जब आप उदयपुर का पुराना नाम क्या है (Old Name of Udaipur) इस सवाल को खोजेंगे तो आपको इसके जवाब में मेवाड़ मिलेगा।

लेकिन वास्तविकता यह है कि उदयपुर का कोई पुराना नाम नहीं है। उदयपुर की स्थापना 1558 में महाराणा उदय सिंह द्वितीय ने किया था। उस समय जब इसकी स्थापना हुई थी तब भी इसका नाम उदयपुर ही रखा गया था। इसका निर्माण तब मेवाड़ साम्राज्य के तहत हुआ था।  मेवाड़ की राजधानी पहले चित्तौड़गढ़ थी। लेकिन चित्तौड़गढ़ पर मुगलों के हमलों के बाद महाराणा उदय सिंह ने एक नया शहर बनाया। यह शहर उदयपुर ही था।

udaypu ka purana naam kya ai

उदयपुर को बाद में मेवाड़ की राजधानी बना दिया गया। यह 1818 ईस्वी तक मेवाड़ की राजधानी रहा। 1818 के बाद उदयपुर अंग्रेजी हुकूमत के अंतर्गत आ गया और अंग्रेजी हुकूमत ने इसे एक राज्य बना दिया।

जब भारत को अंग्रेजों से आजादी मिली तो उदयपुर को राजस्थान में मिला दिया गया। इस तरह उदयपुर राजस्थान में हिस्सा बन गया। Udaipur का भले ही पुराना नाम ना हो, लेकिन यह कई अन्य नामों से जाना जाता है। उदयपुर को झीलों की नगरी यानी The city of Lakes या झीलों का शहर भी कहा जाता है। इसकी बड़ी वजह यह है कि इसके  शहर में कई झील हैं।

इसके अलावा उदयपुर को इसकी बेमिसाल खूबसूरती के लिए पूर्व का वेनिस Venice of the east, The romantic city of the east भी कहा जाता है इसके अलावा उदयपुर को अन्य नामों से जाना जाता है जैसे कि  Kashmir of Rajasthan. उदयपुर को “राजस्थान का कश्मीर” कहने का कारण भी उदयपुर की खूबसूरती है।  उदयपुर की खूबसूरती का अंदाजा आप इस बात पर भी लगा सकते हैं कि इस शहर को दुनिया के टॉप के सबसे खूबसूरत शहरों में से एक गिना जाता रहा है।

Leave a Reply