उत्तराखंड के प्रथम मुख्यमंत्री कौन थे। First chief minister of Uttarakhand

उत्तराखंड के प्रथम मुख्यमंत्री कौन थे (who was chief minister of uttarakhand) आज हम इस post के माध्यम से इस विषय के साथ प्रथम मुख्यमंत्री के बारे में सामान्य जानकारी भी प्राप्त करेंगे।

uttarakhand ke first chief minister ka naam kya hai

उत्तराखंड के प्रथम मुख्यमंत्री “नित्यानंद स्वामी” थे। इन्होंने इस राज्य के मुख्यमंत्री पद की शपथ 9 नवंबर 2000 को ग्रहण की थी जिसके बाद उनका कार्यकाल लगभग 1 साल का था अर्थात वह इस पद पर 29 अक्टूबर 2001 तक पदस्थ रहे। नित्यानंद जी ‘भारतीय जनता पार्टी’ के नेता थे।

उत्तराखंड के प्रथम मुख्यमंत्री के बारे में सामान्य जानकारी।

श्री सत्यानंद स्वामी का जन्म 27 दिसंबर 1927 को हरियाणा के ‘नारनोल’ नामक गांव में हुआ था। इनको पहले सत्यानंद शर्मा के नाम से जाना जाता था। बचपन से ही सत्यानंद जी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ गए थे एवं स्वतंत्रता संग्राम में हिस्सा लिया करते थे। वह शुरुआत से ही संघो से जुड़े हुए रहते थे इसी वजह से वह politics में भी आए।

आगे चलकर इनकी शादी चंद्रकांता स्वामी से हुई। इस couple को चार बेटियां हैं।

वैसे तो, नित्यानंद स्वामी जी पेशे से वकील थे पर इनका वर्चस्व politics में बहुत ऊंचा था इसलिए वह उत्तराखंड के प्रथम मुख्यमंत्री भी बने। नित्यानंद स्वामी कुछ समय कांग्रेस पार्टी में भी बिताया। दरअसल, वह सर्वप्रथम कांग्रेस पार्टी में ही सम्मिलित हुए थे लेकिन कुछ समय बाद वह भाजपा में आ गए। सन 2012 में श्री सत्यानंद स्वामी जी की मृत्यु हो गई तब उनकी उम्र 84 वर्ष थी।

Read also :-

Leave a Reply