Virus की खोज किसने और कब की थी ।

वायरस की परिभाषा क्या है – Virus की खोज किसने की थी?  यह जानने से पहले वायरस या विषाणु होते क्या है यह समझ लेना उचित है। वायरस एक ऐसा संक्रमण जीव होता है, जो प्रोटीन के कोट में रहता है,एवं जिसके अंदर न्यूक्लिक एसिड होता है।

वैसे तो यह बहुत घातक जीव है परंतु इसकी इकलौती कमजोरी यह है कि यह अपने आप में प्रजनन नहीं कर सकता इसीलिए यह अपने आप को किसी और  जीव  के साथ जोड़ लेता है और तब ही प्रजनन कर सकता है। किसी और  जीवित जीव की कोशिकाओं के बिना वायरस का अपने आप में कोई अस्तित्व नहीं है।

virus ki khoj kisne ki

वायरस की खोज किसने की थी

वैसे तो वायरस से होने वाली बीमारियों से बचने के लिए लुई पाश्चर और एडवर्ड जेनर दवाइयां बना चुके थे परंतु उन्हें इस बात का कोई अंदाजा नहीं था कि वे किस जीव के खिलाफ लड़ने के लिए यह दवाइयां बना रहे हैं इसीलिए उन्हें वायरस की खोज करने वाला नहीं माना जा सकता। वायरस की खोज किसने की थी?  यह जानने से पहले आपको एक विशेष तरह के फिल्टर के बारे में समझना होगा, यह फिल्टर वह फिल्टर होते थे जो जीवाणु अर्थात बैक्टीरिया को रोक लेते थे। 1892  में  दिमित्री इवानोस्की इन्हीं फिल्टर के साथ प्रयोग कर  तंबाकू के पौधे से जीवाणु निकाल रहे थे, परंतु कुछ दिनों बाद उन्होंने पाया कि पौधा अभी भी संक्रमित है, जब उन्होंने  इस फिल्टर से भी निकल जाने वाले जीव को मार्टिनस बेजेर्निक  को दिखाया तो उन्होंने  संक्रमित  जीव को नाम दिया  वायरस। सरल शब्दों में कहा जाए तो वायरस की खोज का श्रेय इन दोनों वैज्ञानिकों को दिया जा सकता है। 

वायरस के कितने प्रकार है  

वायरस की परिभाषा से हम पहले ही जान चुके हैं कि वायरस प्रोटीन के कोट में रहते हैं, परंतु हाल ही में वैज्ञानिकों ने ऐसे वायरस की खोज की है जो प्रोटीन के कोट के बिना भी जिंदा रह सकते हैं। वायरस दो प्रकार के होते हैं पहला सिंगल स्ट्रैंड वायरस और दूसरा डबल स्ट्रैंड वायरस। वायरस इसीलिए खतरनाक माने जाते हैं क्योंकि कई वायरस ऐसे हैं जो हजारों वर्षों तक निष्क्रिय पड़े रह सकते हैं और जैसे ही उन्हें उनके  उपयुक्त वातावरण मिलता है वे पुनः सक्रिय हो  जाते हैं ।वायरस जीव जंतुओं के साथ ही साथ पौधों को भी संक्रमित कर सकते हैं वे यहीं नहीं रुकते वे जीवाणुओं को भी संक्रमित कर सकते हैं।

Arvind Patel

Follow us on other platforms too. Stay Connected!

1 thought on “Virus की खोज किसने और कब की थी ।”

Leave a Comment