विश्व जल दिवस कब मनाया जाता है ?

जल ही जीवन है, यह कथन हम सभी बचपन से ही सुनते आए हैं। लेकिन इस कथन का दूसरा पहलू यह भी है कि आज के समय में भी बड़ी आबादी स्वच्छ पानी के लिए तरस रही हैं। भारत के ही कई ऐसे हिस्से हैं जहां पानी की भारी कमी रहती है तथा लोगों को पानी के लिए दूर दूर तक जाना होता है। समय के साथ पानी की समस्या और भी बड़ी होती जा रही है। अनुमान के मुताबिक एक ऐसा भी समय आने वाला है जब स्वच्छ पानी केवल कुछ ही भाग तक सीमित रह जायेगा।

vishwa jal diwas kab manaya jata hai

बड़ी आबादी को स्वच्छ पानी न उपलब्ध होने के कारण से लोग बीमारी का भी शिकार हो रहे हैं। इन्ही सब स्तिथि को देखते हुए विश्व जल  दिवस अस्तित्व में आया। जल दिवस के बारे में भी अपने सुना होगा लेकिन इससे जुड़ी कुछ अन्य महत्वपूर्ण बातें बताएंगे साथ ही यह भी बतायेंगे की विश्व जल दिवस कब मनाया जाता है तथा विश्व जल दिवस का क्या इतिहास है।

  • विश्व जल दिवस

संयुक्त राष्ट्र द्वारा आयोजित किया जाने वाला विश्व जल दिवस ( World Water Day ) विश्व भर में 22 मार्च को मनाया जाता है। जैसा कि पहले भी बात की गई है कि एक बड़े तबके तक स्वच्छ जल नही उपलब्ध है। अतः इसी को ध्यान में रखते हुए विश्व जल दिवस मनाया जाता है। जल दिवस के आयोजन का मुख्य उद्देश्य सभी लोगों तक स्वच्छ जल की उपलब्धता सुनिश्चित करना है। इसके अलावा जल का महत्व हमारे जीवन में क्या है तथा इसके न होने पर इसके क्या गंभीर परिणाम हो सकते हैं, इन्ही सब बातों पर ध्यान आकर्षित करना है। इसमें जल संरक्षण का भी मुद्दा शामिल है।

  • 22 मार्च – विश्व जल दिवस के रूप में मनाया जाने वाला दिन

विश्व जल दिवस का इतिहास

विश्व जल दिवस मनाने का प्रस्ताव सबसे पहले 1992 में संयुक्त राष्ट्र के Rio de Geneiro में Environment and Development के मुद्दे पर आयोजित कॉन्फ्रेंस में रखा गया था। 1992 के दिसंबर महीने में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने इस प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए विश्व भर में इसे मनाने की स्वीकृति दी। इसके तहत घोषणा की गई कि संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों के साथ साथ विश्व भर के अन्य देशों में भी 22 मार्च को विश्व जल दिवस के रूप में मनाया जाएगा। इस घोषणा के बाद पहली बार विश्व जल दिवस का आयोजन 1993 में किया गया।

  • विश्व जल दिवस Theme

विश्व जल दिवस हर साल एक नई थीम पर आयोजित किया जाता रहा है। इसके अस्तित्व में आने के कुछ साल बाद से ही इसके लिए अलग अलग थीम चुने जाने लगे। अगर इसके शुरुआती कुछ थीम्स की बात करें तो 1994 में विश्व जल दिवस का थीम जल स्रोतों के संरक्षण से जुड़ा हुआ था। 1994 का थीम जल स्रोतों की रक्षा हर नागरिक की ज़िम्मेदारी पर आधारित था। इसके बाद 1995 में महिला और जल  को थीम के रूप में चुना गया। इसी तरह 1996 का थीम Water for Thirsty Cities था।

इसी प्रकार इसके अंतिम कुछ वर्षों के थीम की बात करें तो 2018 का थीम Nature for Water था। इसके तहत इस बात पर चर्चा की गई थी कि किस तरह पर्यावरण पानी की चुनौती से पार पाने में मददगार साबित हो सकता है। 2017 का थीम पानी की बरबादी को रोकने से जुड़ा था जबकि 2016 में इसके लिए Better Water, Better Jobs थीम के रूप में चुना गया था।

इसे  पढ़ने के बाद आपको यह मालूम चल गया है कि विश्व जल दिवस कब मनाया जाता है। अगर आपके पास इस लेख से जुड़ा कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में ज़रूर बताएं। इसके अलावा किसी अन्य तरह के सवाल या सुझाव भी आप कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं। इसी तरह के पोस्ट पाते रहने के लिए इस Website से जुड़े रहें।

Leave a Reply