विश्व जनसंख्या दिवस कब और क्यों मनाया जाता है 2019

विश्व के लगभग 200 देशों को मिला कर देखें तो मौजूदा समय में पूरे दुनिया की आबादी 750 करोड़ से अधिक जा चुकी है। हालांकि यह Official Data नही है, बल्कि एक अनुमान है। आधिकारिक रूप से देखें तो 2017 के एक आंकड़े के अनुसार दुनिया में मौजूद सभी देशों की कुल आबादी 753.04 करोड़ थी। देश के हिसाब से देखें तो विश्व की सबसे अधिकआबादी चीन में है।

आबादी के मामले में भारत विश्व का दूसरा सबसे बड़ा देश है। जिस तेजी से आबादी बढ़ी है उसके साथ ही कुछ समस्याएं भी आई हैं। विश्व की जनसंख्या में देखें तो कुछ ऐसी समस्याएं हैं जिससे कि विश्व की अधिकांश देश ग्रसित हैं। इन्हीं समस्याओं और चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए इसके प्रति जागरूकता फैलाने तथा समस्याओं के निदान ढूंढने के लिए विश्व जनसंख्या दिवस मनाने की शुरुआत की गई।

vishva jansankhya divash kab aru kyon mante hai

इस लेख में बताएंगे कि विश्व जनसंख्या दिवस कब मनाया जाता है तथा इससे जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें भी बताएंगे।

विश्व जनसंख्या दिवस क्यों मानते है।

विश्व जनसंख्या दिवस यानी World Population Day संयुक्त राष्ट्र के यूनाइटेड नेशन डेवलपमेंट प्रोग्राम ( UNDP ) द्वारा शुरू किया गया था। इसकी शुरुआत 1989 में कई गयी थी। यह दिवस हर साल 11 जुलाई को मनाया जाता है। हर साल अलग अलग Theme पर आयोजित होने वाले विश्व जनसंख्या दिवस का मुख्य उद्देश्य विश्व की आबादी से जुड़ी Common Problems को विश्व पटल पर रखना तथा लोगों को जागरूक करना है।

  • 11 जुलाई – विश्व जनसंख्या दिवस के रूप में मनाया जाने वाला दिन

विश्व जनसंख्या दिवस मनाने का उद्देश्य

विश्व जनसंख्या दिवस आयोजित करने का मुख्य उद्देश्य लोगों के बीच जागरूकता फैलाना है। इसके तहत कई अहम मुद्दों पर चर्चा की जाती है तथा लोगों को जागरूक किया जाता है। इनमें शामिल मुद्दे गरीबी, परिवार नियोजन के महत्व, Gender Equality, मानसिक स्वास्थ्य तथा मानवाधिकार हैं। वर्तमान समय में विश्व भर में अमीर और गरीब के बीच की खाई बढ़ती ही जा रही है। गरीबी भी बढ़ रही है। इस कारण इस समस्या से निजात पाने के लिए लोगों को जागरूक किया जाता है।

इसके अलावा तेज़ी से बढ़ती आबादी भी एक चिंता का विषय है। इस कारण इसे नियंत्रित करने के उद्देश्य से बड़े स्तर पर इससे जुड़े कार्यक्रम भी किए जाते हैं तथा सीमित को सीमित परिवार के लिए प्रेरित किया जाता है। World Population Day के तहत ही एक और अहम मुद्दे, Gender Quality पर भी जोड़ दिया जाता है।

विश्व जनसंख्या दिवस का इतिहास

विश्व जनसंख्या दिवस मनाने का Idea World Bank में Demographer के तौर पर काम करने वाले Dr KC Zachariah ने दिया था। World Population Day की शुरुआत एक अन्य कार्यक्रम से ही प्रेरित था।

अनुमान के मुताबिक 11 जुलाई 1987 को पूरे विश्व की आबादी 5 Billion हो पहुंची थी। इस मौके पर Five Billion Day का आयोजन 11 जुलाई 1987 को किया गया था। इसमें बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए थे। इसी से प्रेरित हो कर इसके ठीक दो साल बाद विश्व जनसंख्या दिवस मनाने की शुरुआत की गई।

इस लेख के पढ़ने के बाद आपको पता चल गया होगा कि विश्व जनसंख्या दिवस कब मनाया जाता है। इसके अलावा आपको विश्व जनसंख्या दिवस मनाने का उद्देश्य भी समझ आ गया होगा। अगर आप इससे जुड़ा कोई सवाल पूछना चाहते हैं या किसी अन्य तरह के सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स में ज़रूर बताएं। इसी तरह के लेख प्राप्त करते रहने के लिए इस Website से जुड़े रहें।

Leave a Reply