WhatsApp की खोज किसने की थी।

व्हाट्सएप (WhatsApp) मोबाइल पर सबसे पॉपुलर messaging app है। WhatsApp के जरिये फोटो, विडियो, Animation और messages इत्यादि मुफ्त में भेजे और प्राप्त किए जा सकते हैं। व्हाट्सएप मैसेंजर में Voice over IP (VoIP) सेवा भी उपलब्ध है। मोबाइल और इंटरनेट की दुनिया में रोज नये Products और सर्विसेस लॉंच होती हैं, लेकिन अपने करोड़ों active users के साथ WhatsApp ने जो सफलता हासिल कर ली है वो Messaging सर्विस देने वाला कोई और App  हासिल नहीं कर पाया है। इस लेख में, हम देखेंगे कि व्हाट्सएप की खोज किसने की और इसकी शुरुआत कैसे हुई तथा वर्तमान में इसके मालिक कौन हैं? इसके अलावा यह भी जानेंगे की WhatsApp काम कैसे करता है?

whatsapp ki khoj kab aur kisne ki thi

WhatsApp की खोज किसने और क्यों की?

व्हाट्सएप का आविष्कार या निर्माण ब्रायन एक्टन (Brian Acton ) और जन कौम (Jan Koum) ने मिलकर किया था। Jan Koum ने WhatsApp को 24 फ़रवरी 2009 को, अमेरिका के कैलिफोर्निया में Incorporate किया था। इससे पहले ये दोनों Yahoo में कम्प्युटर प्रोग्रामर के रूप में काम करते थे। इन्होने Yahoo की नौकरी September 2007 में छोड़ दी थी। WhatsApp शुरू करने से पहले इन दोनों ने Facebook में नौकरी के लिए अप्लाई किया था लेकिन इनके आवेदन को Facebook द्वारा खारिज कर दिया गया था। सबसे पहले WhatsApp को जनवरी 2009 में जारी किया गया था। इसे कई बदलावों के बाद जून 2009 में messaging component के साथ जारी किया गया था। उस वक़्त WhatsApp के 250,000 सक्रिय उपयोगकर्ता थे। आज दुनिया में WhatsApp उपयोग करने वालों की संख्या 1.5 बिलियन से ज्यादा हो चुकी है। WhatsApp शुरू में फ्री था लेकिन इसके तेज़ी से बढ़ते Users के कारण इसे Paid सर्विस बना दिया गया था। WhatsApp उपयोग करना फिर से मुफ्त हो चुका है। इसका कोई monthly चार्ज नहीं है।

Jan Koum और Brian Acton को WhatsApp का आइडिया एक मैसेजिंग ऐप के विचार के रूप में आया ताकि वे अपनी आने वाली काल्स को Miss न कर सकें। इसके साथ की “Status” से यह भी जाना जा सके की अगला आदमी busy है या उपलब्ध है।

WhatsApp कैसे काम करता है

व्हाट्सएप की शुरुआत SMS के विकल्प के रूप में हुई थी। अब ये App विभिन्न प्रकार के मीडिया जैसे कि टेक्स्ट, फोटो, वीडियो, Voice Call, Documents, और लोकेशन इत्यादि के आदान-प्रदान में उपयोग होता है। WhatsApp का end-to-end encryption, इसपर भेजे गए Messages को प्राइवेट और सुरक्षित रखता है। इसका मतलब यह है कि कोई भी तीसरा व्यक्ति, यहाँ तक कि WhatsApp भी, आपके द्वारा भेजे गए Messages को देख या सुन नहीं सकता है।

WhatsApp में users अपने Contact list को अपलोड कर के ये देखते हैं कि उन contacts में कौन whatsapp का use करता है। इसके बाद आप उन लोगों को बिना किसी चार्ज के मैसेज कर सकते हैं। WhatsApp लगभग सभी मोबाइल models के लिए उपलब्ध है जैसे किआईफोन, एंड्रॉइड, ब्लैकबेरी, विंडोज फोन, नोकिया फोन इत्यादि। अब यह डेस्कटॉप के लिए भी उपलब्ध है। WhatsApp ने 2015 में Voice Calling और 2016 में Video Calling सेवाएँ शुरू की थीं।

WhatsApp को Facebook ने क्यों खरीदा?

WhatsApp दुनिया का सबसे ज्यादा उपयोग होने वाला Messaging App है। इसके 1.5 billion users और उनका User Data किसी को भी इसे खरीदने के लिए प्रेरित कर सकते है। हालांकि Mark Zuckerberg के अनुसार वे इंटरनेट services का एक ऐसा ग्रुप तैयार करना चाहते हैं जो फ्री हो और जिससे लोगों का जीवन सुविधापूर्ण बन सके। उनका Facebook और Instagram तथा अब WhatsApp इसी Idea के अंग हैं। अपने इस विचार को मूर्त रूप देने के लिए Zuckerberg ने Internet.org की शुरुआत की और WhatsApp को खरीदा।

Leave a Reply