विश्व का नक्शा (मानचित्र) किसने बनाया था।

अब मानचित्रों में अलग-अलग प्रकार की जानकारियों को भौगोलिक सूचना प्रणाली (GIS) जैसे प्रौद्योगिकी की मदद से आसानी से Show किया जाता है। मानचित्रों का इतिहास बहुत पुराना है। कुछ मानचित्र लगभग 16,500 B.C.E. के आस पास के बनाए हुए हैं जिनमें रात के आकाश का चित्रण हुआ है। Babylonian, Indian, और Chinese लोगों ने भी वर्ल्ड Map बनाने में योगदान दिया है। लेकिन विश्व के मानचित्र को बनाने का श्रेय सबसे पहले Greeks को जाता है।

vishwa ka manchitra kisne banaya tha

विश्व का पहला मानचित्र किसने बनाया

सबसे पहले यूनान (Greek) के एनेक्सिमैंडर (Anaximander 610-546 BC) ने 550 BCE में World Map बनाया था। ईसा पूर्व छठवीं शताब्दी में एनेक्सिमैंडर ने जो Map बनाया था उसके पीछे उनका मानना था कि दुनिया एक Cylinder के आकार की है। दुर्भाग्यवश उनके द्वारा बनाया गया Map अब उपलब्ध नहीं है।

एनेक्सिमेंडर के बाद, विभिन्न ग्रीक दार्शनिकों और वैज्ञानिकों जैसे कि मैटलस, हेरोदोटस, टॉल्मी और एराटोस्टेनेस के हेकेटेस इत्यादि ने विश्व के मानचित्र बनाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

क्लॉडियस टॉल्मी (Claudius Ptolemy ) Map बनाने में गणित और ज्यामिति का उपयोग करने वाले पहले पहले व्यक्ति थे। Ptolemy ने सबसे पहले latitudes और longitudes का मानचित्र बनाने में उपयोग किया था। Ptolemy ने 150 AD में six-volume atlas बनाया जिसे “Geographia” के नाम से जाता है। इस Atlas में उस समय के ज्ञात सभी World Maps को दर्शाया गया है।

लेकिन ये अरस्तू (Aristotle) थे जिन्होंने ये साबित किया कि पृथ्वी गोलाकार है। पृथ्वी के पूरे मानचित्र का विकास मध्य युग में महान भौगोलिक खोजों के बाद ही संभव हो पाया। आजकल Advanced Computerized Maps बनाए जाते हैं।

इतिहास के प्रमुख मानचित्र

  • Ptolemy’s Geography (150 AD)
  • Al-Idrisi’s World Map (1154)
  • Kwon Kun’s Kangnido Map (1402)
  • Waldseemuller’s Universalis Cosmographia (1507)
  • Ribeiro’s World Map (1529)
  • Mercator’s World Map (1569)
  • Blaeu’s Atlas maior (1662)
  • Peters’s Projection (1973)
  • Virtual Mapping: Google Earth (2005)

Read also :-

Leave a Reply