भारत का यंगेस्ट बिलेनियर कौन है ? Youngest Indian Billionaire

हुरून रिसर्च इंस्टिट्यूट (Hurun Research Institute) ने वर्ष 2020 में अपनी 9वी हुरून ग्लोबल रिच लिस्ट (Hurun Global Rich List) जारी की है। इस लिस्ट में विश्व के उन dollar billionaire के नाम शामिल है जिनकी संपत्ति $ 1बिलियन या उससे अधिक है। इसी global list के अनुसार 2020 में भारत के youngest billionaire OYO कंपनी के फाउंडर रितेश अग्रवाल बन गए है, जबकि विश्व मे उनका स्थान दूसरा है। Youngest Billionaire की लिस्ट में प्रथम स्थान पर Kylie Jenner है जिन्होंने केवल 22 साल की उम्र में $1.1 billion की संपत्ति संकलित कर ली है। रितेश अग्रवाल की कुल संपत्ति $1.1 बिलियन (7800 करोड़)आंकी गयी है। इन्होंने केवल 26 वर्ष की उम्र में यह खिताब हासिल कर लिया है। Finders आज के इस आर्टिकल में हम बताएंगे OYO boy रितेश अग्रवाल के बारे में, जिन्होंने छोटी उम्र में बड़े कारनामे किये है।

Youngest Indian Billionaire

रितेश अग्रवाल की जीवनी

रितेश अग्रवाल का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 16 नवंबर 1993 को ओडिशा के रायगढ़ा जिले के बिसमकटक में हुआ था। उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा रायगढ़ा के Sacred Heart School से प्राप्त की। 2009 में  रितेश IIT की कोचिंग के लिए कोटा चले गए। कोटा में रहते हुए रितेश ने “Indian Engineering Colleges: A Complete Encyclopaedia of Top 100 Engineering Colleges” नामक किताब भी लिखी। महज़ 16 वर्ष की उम्र में उनका चुनाव उन 240 बच्चों में हुआ जिन्हें Asian Science Camp के लिए चुना गया। यह कैम्प  Tata Institute of Fundamental Research (TIFR) Mumbai में आयोजित हुआ। इसी के बाद वर्ष 2012 में रितेश कॉलेज के लिए दिल्ली चले गए। दिल्ली जाने के बाद  उन्होंने बहुत से बिजनेसमैन, enterpreneurs आदि से मिले एवं उनके बारे में काफी पढ़ा। समय की प्रचुरता के कारण रितेश ने कोटा एवं मुम्बई में रहते हुए बहुत travel किया जिससे उन्हें यह अहसास हुआ कि भारत में hotels के standardisation एवं predictibility की समस्या है। अच्छे budget पर भी hotels में सुविधाएं अच्छी उपलब्ध नहीं थी।

इसी समस्या को दूर करने के लिए रितेश अग्रवाल ने 2012 में Oravel Stays की शुरुआत की। इसमें consumers को बजट के according पूरे भारत मे hotels, private rooms की बुकिंग की सुविधाएं दी गयी थी। जल्द ही इस startup को Venture Nursery से 30 लाख की funding प्राप्त हो गयी। इसी के बाद रितेश अग्रवाल ने अपने business idea को Thiel Fellowship के लिए प्रस्तुत किया। इस  फ़ेलोशिप की शुरुआत Paypal के co- founder Peter Thiel ने की थी। Thiel fellowship के अंतर्गत 20 वर्ष से कम उम्र के 20 entrepreneur को चुना जाता है,जिन्हें  $1,00,000 की राशि दी जाती है। वर्ष 2013 में रितेश को Thiel Fellowship प्राप्त हुई एवं वे इसे प्राप्त करने वाले पहले एशियाई नागरिक बन गए। इस fellowship के माध्यम से रितेश ने Oravel Stays का रूपांतरण कर उसे OYO के नाम से लांच किया।

2013 में शुरू हुई OYO कंपनी आज एक विशाल कंपनी बन चुकी है जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नेपाल, ब्राज़ील, चीन, इंडोनेशिया, मलेशिया, जापान, फिलीपींस, सऊदी अरब, श्री लंका जैसे कई अन्य देशों में अपना व्यापार फैला चुकी है। इस उद्यम में SoftBank, Hero Enterprise, Airbnb,China Lodging Group जैसे कई बड़े निवेशको ने invest किया है। वर्तमान समय 2020 में OYO की कुल value $1.1 बिलियन (7800 करोड़) है। इसी के साथ oyo के CEO रितेश अग्रवाल विश्व के दूसरे एवं भारत के प्रथम youngest billionaire बन गए है,जबकि पिछले वर्ष 2019 में वह 7500 करोड़ रुपए की संपत्ति के साथ विश्व में प्रथम स्थान पर थे। इनकी सम्पत्ति में पिछले साल से 300 करोड़ रुपए की बढ़ोत्तरी हुई है। वर्ष 2019 में रितेश सबसे अमीर स्टार्टअप संस्थापकों की सूची में दूसरे स्थान पर थे। 2020 में जब अमेरिका के president डोनाल्ड ट्रंप भारत के दौरे पर आए थे तब उन्होंने OYO Boy रितेश अग्रवाल की प्रशंसा की थी। Trump ने उन्हें एक “Brilliant Businessman” कहा था।

Leave a Reply